विधि विश्वविद्यालय का प्रशासन अंतत: झुका, हटाए गए 20 कर्मचारी काम पर लौटे, नितिन भंसाली का संघर्ष रंग लाया

विगत 20 दिनों तपती धूप में हिदायतुल्लाह राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय एचएनएलयू में आंदोलनरत सफाई कर्मचारियों को बड़ी राहत मिली है, सभी कर्मचारियों को काम पर वापस लिया जाएगा एवं बकाया राशि का भी भुगतान होगा.

पी.आई.एस.एफ चैयरमेन ओर कांग्रेस नेता नितिन भंसाली ने बताया कि प्रदेश के सर्वोच्च शिक्षण संस्थान हिदायतुल्ला नेशनल लॉ यूनवर्सिटी में विगत 10 वर्षो से कार्यरत 45 सफाई कर्मचारियों को बिना नोटिस के काम से निकाले जाने के विरोध में विगत 20 दिनों से कर्मचारियों द्वारा तपती धूप में धरने में बैठकर न्याय की लड़ाई लड़ी जा रही थी. नितिन भंसाली ने बताया कि उन्होंने कर्मचारियों के न्याय की लड़ाई में उनके हित में उनका मोर्चा संभाला एवं उनकी मांगो को विश्वविद्यालय प्रशासन के सामने पूरी मजबूती से रखा.

श्री भंसाली ने बताया कि वे स्वयं धरनास्थल पहुंचकर आंदोलनकारी श्रमिकों से चर्चा की थी एवं उनकी समस्याओं को सुनकर शासन से न्याय करने की मांग की थी जिसका परिणाम यह हुआ की आज प्लेसमेंट एजेंसी ने स्थानीय विधायक श्री धनेंद्र साहू, श्रम मंत्री श्री शिव डहरिया, कांग्रेस नेता नितिन भंसाली, स्थानीय प्रशासन के अधिकारी और तकनीकी और गैर तकनीकी कर्मकार कल्याण संघ के अध्यक्ष नरेश कुमार साहू के हस्तक्षेप के बाद सभी कर्मचारियों को काम में वापस लिए जाने की बात को स्वीकार किया और इन कर्मचारियों के हित में निर्णय लिया.

हड़ताल के दौरान बड़ी संख्या में महिला कर्मचारियों ने व्रत रखा था और अब अपने बहाली की खबर सुन मंदिर जाकर विधि-विधान के अनुसार शनिवार को अपना व्रत खोलेंगी. इस ख़ुशी के अवसर पर कांग्रेस नेता नितिन भंसाली भी सभी कर्मचारियों के साथ उपस्थित रहेंगे. नितिन भंसाली ने श्रम मंत्री श्री शिव डहरिया, क्षेत्रीय विधायक श्री धनेन्द्र साहू, विश्वविद्यालय प्रशासन के प्रति आभार प्रगट किया है.


Tags

हिदायतुल्लाह राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय एचएनएलयू आंदोलनरत सफाई कर्मचारियों को बड़ी राहत

Related Articles

More News