पीएनबी' बैंक का एक और घोटाला, 40 साल वालों को 23 का बनाकर दे दी नौकरी

पंजाब नेशनल बैंक के सफाई कर्मियों की भर्ती में घोटाले का आरोप लगा है। आरोप है कि 40-50 साल के लोगों को 23-25 साल का बनाकर भर्तियां की गईं हैं। 39 में से 30 लोगों की भर्ती फर्जी कागजातों के आधार पर की गई है। उम्र कम करने के लिए फर्जी टीसी से फर्जी आधार और पैन बनवाए गए।

पीएनबी चेयरमैन को पत्र भेज जांच की मांग की गई है।  बैंक के चेयरमैन को भेजे शिकायती पत्र में कहा गया है कि मंडल कार्यालय ने 31 जनवरी 2017 को चपरासी और सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए आवेदन मांगे थे। इसका विज्ञापन भी समाचार पत्र में निकला था। चपरासी की भर्ती तो निरस्त कर दी गई मगर बाद में 39 सफाई कर्मचारियों की गुपचुप तरह से भर्ती कर ली गई। इन लोगों को अलग अलग तारीखों 6 दिसंबर 2017, 29 दिसंबर 2017 और सात फरवरी 2018 को ज्वाइन कराया गया।

इसका कारण भर्ती के लिए जरुरी फर्जी प्रमाण पत्रों का नहीं बन पाना था। आरोप है कि जनवरी को पीएनबी एचआर के एक बड़े अधिकारी रिटायर हो रहे थे। उन्होंने एआईबीईए के नेता अरविंद रस्तोगी और निर्वतमान सर्किल हेड के करीबी वरिष्ठ प्रबंधक के साथ मिलकर घोटाले को अंजाम दिया है। इसके लिए तीन लाख से लेकर पांच लाख रुपये तक पैसे लिए गए।

शिकायतकर्ता का कहना है कि 39 में से 30 लोगों की भर्ती फर्जी कागजातों के आधार पर की गई है। सभी के फर्जी डाक्यूटमेंट भर्ती के हिसाब से बनवाए गए। डाक्यूमेंट में सभी की उम्र को घटा दिया गया। जनरल, ओबीसी, एससी के आधार पर असली टीसी और मार्कशीट को हटाकर फर्जी कागज लगवाए गए। इनमें आवेदकों की उम्र 5 से 15 साल तक कम कर दी गई। इन्हीं फर्जी टीसी से नए आधार कार्ड और पैन कार्ड बनवाए गए। अधिकांश टीसी के ऊपर डुप्लीकेट लिखा हुआ है। सभी प्रमाण पत्र एक ही हैंडराइटिंग में  बने हुए हैं।

पैनल को धोखा देने के लिए आवेदकों को इंटरव्यू में भेजा ही नहीं गया। यह लोग अगर इंटरव्यू में जाते तो तुरंत ही उम्र पकड़ में आ जाती है। इसी लिए उनके बच्चों या फिर दूसरे युवाओं को इंटरव्यू के लिए भेजा गया। शिकायतकर्ता का कहना है कि लगातार शिकायतों के बाद भी जांच को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया। इस लिए अब मीडिया का सहारा लिया जा रहा है। ताकि निष्पक्ष जांच हो सके। बताया जा रहा है कि पहली शिकायत के बाद एक कर्मचारी की तैनाती निरस्त कर दी गई थी। वो आज भी पीएनबी में जेनरेटर आपरेटर का काम कर रहा है। उसे भी मौका देख नियुक्त करने की कोशिश की जा रही है।


Tags

पंजाब नेशनल बैंक सफाई कर्मियों की भर्ती घोटाले का आरोप

Related Articles

More News