देवलीला को प्रदूषण मुक्त उद्योग का दर्जा


रायपुर। सन 2012 को देवलीला बायो टैक्स को प्रदेश की प्रदूषण रहित उद्योग में प्रथम चुना गया है। साथ ही 1 लाख का इनाम देकर सम्मानित किया गया है। यह इनाम रुपये से ज्यादा प्रेरणा के रूप में काम किया। वर्ष 2016 को विदेश से पेपर के गमले बनाने की मशीन आयात की गई। तभी से प्लास्टिक की थैलियों में पौधे देने का काम बंद कर दिया गया। देवलीला बायो टैक्स आज भी प्रदूषण मुक्त उद्योग है। जिसमें केले और बांस के 2 फिट से 3 फीट बड़े पौधे 2 इंच के पेपर पॉट में दिए जा रहे है। इससे प्रदूषण से छुटकारा मिल रहा है। साथ ही साथ पौधे के गुणवत्ता का विकास हुआ है।

Tags

Raipur

Related Articles

More News