बिजली-बिल से मिलने लगी राहत, 400 से 3000 रूपये तक का फायदा हो रहा है उपभोक्ता को आमजन को, हर महीने बिल भरना जरूरी शर्त

रायपुर. प्रदेश कांग्रेस ने घोषणा.पत्र में बिजली बिल हाफ करने का वादा किया था। सत्ता में आते ही योजना को 1 अप्रैल से लागू करने की घोषणा की, लेकिन इसके पहले ही राहत का बिल मिलने लगा। विभाग के मुताबिक बिल में डीएल समायोजन नाम से एक प्वाइंट जोड़ा गया है। इसके सामने अंकित होने वाली राशि ही छूट की राशि है।

छत्तीसगढ़ में उपभोक्ताओं को बिजली बिल हाफ का लाभ मिलने लगा है। बिजली कंपनी ने सॉफ्टवेयर को अपडेट कर लिया है। 20 मार्च से जारी किए जाने वाले बिल में छूट दी जा रही है। 247 यूनिट बिजली खपत करने वाले एक उपभोक्ता को जारी बिल में बिल की राशि 1077 रुपये दर्शायी गई है। इसमें छूट की राशि 512 रुपये को घटाकर 560 रुपये भुगतान योग्य राशि का उल्लेख किया गया है। कुल 47 लाख घरेलू उपभोक्ता हैं। योजना का लाभ मात्र 400 यूनिट तक के स्लैब वाले उपभोक्ताओं को ही मिलेगा।

सोशल एक्टिविस्ट तपन मुखर्जी का कहना है कि ऐसे उपभोक्ताओं को बिल का भुगतान हर माह करना होगा अन्यथा अगले माह से लाभ नहीं ले पाएंगे। 400 यूनिट से अधिक बिजली का उपयोग करने पर टैरिफ के हिसाब से बिल अदा करना पड़ेगा। बिजली बिल आधा होने से उपभोक्ताओं में खुशी है। अब तक 400 यूनिट बिजली की खपत पर 1900 रुपये से अधिक का बिल आ रहा था। बिजली बिल हाफ होने से अब करीब 950 रुपये का भुगतान करना पड़ेगा। लगभग 1000 रुपये की बचत होगी।

Tags

प्रदेश कांग्रेस बिजली बिल हाफ 1 अप्रैल से लागू डीएल समायोजन

Related Articles

More News