बिजली विभाग : कमजोर ट्रांसफार्मर धड़ाधड़ उड़ रहे, रायपुर से लेकर बस्तर तक लोग परेशान, राजधानी में लोग धरना पर बैठे

रायपुर. अघोषित विदयुत कसौटी से पूरा छत्तीसगढ़ बिलबिला रहा है. कल शुक्रवार शाम अचानक हुए ब्लैक आउट को लेकर लोगों में खलबली मच गई थी, लेकिन कुछ समय बाद ही बिजली विभाग ने तकनीकी खराबी दूर कर विद्युत सप्लाई बहाल कर दी है। लगभग आधे घंटे बिजली व्वस्था बाधित होने से पूरे प्रदेश में खलबली मच गई थी। गर्मी से लोग परेशान हो गए थे।

वहीं, बिजली सेवा बधित होने की खबर को लेकर सरकार ने दावा करते हुए कहा था कि 30 मिनट के भीतर विद्युत सप्लाई बहाल कर दी जाएंगी। बता दें कि बस्तर संभाग के 7 जिलों सहित राजधानी रायपुर, दुर्ग और कई शहरों में बिजली गुल हो गई थी। बताया जा रहा है कि भिलाई के एक ट्रांसफर्मर में आग लग गई थी। इसके बाद राजनांदगाँव, दुर्ग, रायपुर सहित बस्तर के 7 जिलों में बिजली व्यस्था बाधित हो गई थी।

ट्रांसफार्मर कई जगह ध्वस्त हो रहे हैं. इसका कारण अतिरिक्त बोझ है. राजधानी के मोवा इलाके में कल रात दो घण्टे बिजली नही थी. हालांकि फोन करने पर बिजली विभाग वाले आए और ठीक करके गए तब राहत मिली. दूसरी ओर राजधानी में बिजली विभाग के फाल्ट के वजह से आधा शहर अंधेरे में है. राजधानी में लगभग 3 घंटे से बिजली गुल है. लाखेनगर में आम लोग धरने पर बैठ गए हैं. राजधानी के आमापारा, भवानी नगर, प्रोफ़ेसर कॉलोनी, परशुराम नगर, कुशालपुर, समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी समेत दर्जनों इलाके में बिजली गुल है. लोग गर्मी से हलाकान हैं.

इधर जानकारी मिल रही है कि बस्तर संभाग के 7 जिलों में भी बिजली बंद है. सीएसईबी के मुख्य कार्यपालन अभियंता गौतम ने फोन पर जानकारी देते हुए बताया कि बस्तर संभाग के साथ-साथ अन्य जिले भी प्रभावित हुए हैं. सीएसईबी का अमला युद्धस्तर पर सुधार कार्य में जुटा हुआ है. अभी तक फाल्ट की जानकारी नही मिल पाई है. अधिकारियों द्वारा भिलाई से गड़बड़ी होने की आशंका जताई है जा रही है.



Tags

अघोषित विदयुत कटौती छत्तीसगढ़ ट्रांसफार्मर

Related Articles

More News