जवाहर बाजार दुकानों के लिए कम दर पर टेंडर, महापौर व एमआईसी सदस्य भड़के, प्रस्ताव फिर से

रायपुर. महापौर एवं एमआईसी सदस्यों ने शुक्रवार को यहां एमआईसी की बैठक में जवाहर बाजार की दुकानों के लिए निकाले गए टेंडर को लेकर जमकर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि एक-एक दुकानों की दर 53-54 लाख तय की गई है, जो बाकी जगहों की तुलना में बहुत कम है। टेंडर किस आधार पर किया गया है, इसकी पूरी जानकारी दी जाए। इसके बाद ही एमआईसी में प्रस्ताव रखा जाए।  नाराजगी के बाद यह प्रस्ताव रोक दिया गया। कहा जा रहा है कि दुकानों की नीलामी के लिए अब फिर से टेंडर किए जाएंगे।

महापौर प्रमोद दुबे की अध्यक्षता में दोपहर करीब 12 बजे नगर निगम एमआईसी की बैठक शुरू हुई, करीब तीन घंटे चली। बैठक में शहर की सड़कों की सफाई, दुकानों की नीलामी, सुभाष स्टेडियम के रख रखाव समेत बिजली, उद्यानिकी व अन्य विभागों से जुड़े 20 प्रस्ताव रखे गए। इनमें से शहर की 15 प्रमुख सड़कों की स्वीपिंग मशीनों से सफाई और नेताजी सुभाष स्टेडियम के रख रखाव को लेकर समिति गठित करने के प्रस्ताव को चर्चा के लिए रोक दिया गया। बाकी प्रस्तावों पर चर्चा शुरू हुई और एक-एक कर अधिकांश प्रस्ताव पास कर दिए गए।

बैठक में जवाहर बाजार की दुकानों के लिए जारी किए गए टेंडर का मुद्दा गरमाया रहा। महापौर, एमआईसी सदस्यों ने कम कीमत पर दुकानों की नीलामी करने की बात को लेकर वहां जमकर नाराजगी जताई। उन्होंने निगम अफसरों से पूछा कि दुकानों के लिए टेंडर किस आधार पर मंगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि करोड़ों की लागत से जवाहर बाजार व्यावसायिक कॉम्पलेक्स तैयार कराया जा रहा है। इसके चलते शहर के और कई बड़े काम रोके गए हैं। उन्होंने टेंडर प्रस्ताव सही ढंग से बनाकर एमआईसी की बैठक में रखने कहा।

एमआईसी की बैठक में निगम जोन दफ्तरों से बिजली मरम्मत व उद्यानिकी कामों के लिए श्रमिक अब निगम मुख्यालय के माध्यम से रखे जाएंगे। जोन के माध्यम से श्रमिक रखने से कई तरह की गड़बड़ी सामने आ रही है। बैठक में रावाभाठा के अंतरराज्यीय बस स्टैण्ड में नए बस स्टैण्ड पंडरी में पिछले कई साल से कारोबार कर रहे 59 व्यापारियों को 10 बाई 15 का भूखण्ड उपलब्ध कराने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। इसके अलावा निगम के दो कर्मचारी प्रेमानंद बेहरा व राकेश यदु की बीमार पुत्रियों की मदद के लिए चिकित्सा क्षतिपूर्ति मंजूर की गई।

एमआईसी की बैठक में आधा दर्जन कर्मियों को संविदा नियुक्ति देने का प्रस्ताव भी पास किया गया। इसमें चार सहायक राजस्व निरीक्षक नरेन्द्र नायडू, कामता प्रसाद, विजय लांजेवार, श्रीमती रोशनी शर्मा एवं  सहायक ग्रेड-3 पर ममता चौरसिया व सहायक ग्रेड-2 बीना शिंदे शामिल है।

Tags

महापौर एवं एमआईसी सदस्य एमआईसी की बैठक जवाहर बाजार महापौर प्रमोद दुबे

Related Articles

More News