जीएसटी कैंसिल न करने की एवज मांग रहा था 50 हजार की घूस, विजिलेंस ने धरदबोचा

लुधियाना. लुधियाना में विजीलेंस विंग ने जीएसटी विभाग के ईटीओ को 50 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए गिरफतार किया है। उसने धागे का काम करने वाले एक व्यापारी की कंपनी का जीएसटी नंबर रद्द करने का नोटिस जारी किया था, जब वह इस संबंधी बात करने के लिए अधिकारी के पास पहुंचा तो उसने रिश्वत की मांग की थी, जिसे उसके कार्यालय से ही रिश्वत लेते हुए काबू किया गया है।

आरोपी की पहचान अमरदीप सिंह नंदा के रूप में हुई है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है, कहीं उसकी कोई और शिकायत तो नहीं। डीएसपी विजिलेंस रमनदीप सिंह भुल्लर ने बताया कि शिकायतकर्ता कारोबारी उमेश है, उसका धागा और कपड़ा ट्रेडिंग का कारोबार है। उमेश ने उन्हें कहा कि उनकी एक फर्म उमेश स्पिनिंग प्राइवेट लिमिटेड है। इसके डायरेक्टर उसके दादा और ताऊ हैं, जबकि कारोबार वह देखते हैं। पिछले साल दिवाली के पास आरोपी ईटीओ ने उनका जीएसटी कैंसिल कर दिया, जिसमें तर्क दिया कि उनके पेपर पूरे नहीं, जबकि उनके सारे दस्तावेज पूरे थे। लिहाजा उन्होंने पटियाला डीटीसी को इसकी शिकायत कर दी और उन्होंने दोनों को अपना पक्ष रखने के लिए बुलाया। अभी उसकी जांच चल रही है।

उन्होंने बताया कि उनकी एक और फर्म कोहाड़ा के पास है, जहां मैन्युफेक्चरिंग नहीं हो रही। आरोपी ने उसका जीएसटी भी कैंसिल करने का नोटिस भेज दिया। जब उन्होंने ईटीओ से बात की तो उसने कहा कि 50 हजार रुपए लेगा। इसके लिए मंगलवार को उसने उमेश को अपने ऑफिस में पैसे लेकर आने के लिए कहा। पीड़ित ने जाकर इसकी शिकायत विजिलेंस से कर दी। इसके बाद विजिलेंस टीम ने ट्रैप लगाया और पुलिस की मदद से अमरदीप सिंह को उसके डिवीजन नंबर-3 के कार्यालय से काबू कर उससे रिश्वत के पचास हजार रुपए भी बरामद कर लिए हैं।

Tags

लुधियाना विजीलेंस विंग ईटीओ 50 हजार रुपए रिश्वत

Related Articles

More News