गुजरात में सांस्कृतिक महोत्सव : कच्छ के रण में लीजिए छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का लुत्फ

रायपुर. गुजरात के रण महोत्सव में पहुंचने वाले देश विदेश के सैलानी वहां छत्तीसगढ़ी व्यंजन चिला, फरा आदि का स्वाद भी ले सकते हैं। कच्छ के रण में हर साल आयोजित होने वाले रण महोत्सव में छत्तीसगढ़ का स्टॉल दिसंबर में लगेगा। यहां के स्थानीय कलाकार भी वहां अपनी कला का प्रदर्शन करने के लिए भेजे जा रहे हैं।

एक भारत श्रेष्ठ भारत परियोजना के तहत राज्यों के बीच होने वाले सांस्कृतिक आदान प्रदान में छत्तीसगढ़ और गुजरात पार्टनर हैं। इसी योजना के तहत रण महोत्सव में छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक झलक दिखाने की तैयारी की जा रही है। छत्तीसगढ़ सरकार की कला संस्कृति व टूरिज्म विभाग की टीम रण महोत्सव की तैयारी में जुटी है।

गुजरात का पर्यटन विभाग हर वर्ष रण महोत्सव का आयोजन करता है जिसमें देश ही नहीं विदेशों से भी हजारों पर्यटक आते हैं। रण महोत्सव में राज्य की सहभागिता को लेकर कार्ययोजना तैयार करने के लिए टूरिज्म व कला संस्कृति विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की टीम इन दिनों गुजरात गई हुई है।

रण महोत्सव में चीला, खुरमी, ठेठरी, फरा,धुस्का, अमरसा, पीड़िया, पूर लड्डू, पप्ची, खाजा, इड़हर व डुब्की सहित अन्य छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का लुत्फ देश दुनिया से आए पर्यटक उठाएंगे।

Tags

Chhattisgarhi food Chila Fara

Related Articles

More News