पीएम मोदी ने रायपुर और बालोद जिले की तारीफ की, जल संरक्षण के लिए बताया रोल मॉडल

रायपुर. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छत्तीसगढ़ सहित अन्य राज्यों के सचिवों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए महत्वपूर्ण राष्ट्रीय और अंतर्राज्यीय परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी ली।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग के दौरान भारत सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य के बालोद और रायपुर जिले में जल संरक्षण और वर्षा जल के संचयन के लिए बेहतर कार्य किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने भारत के सभी राज्यों के मुख्य सचिवों से कहा है कि वे वर्षा जल के संचयन और भू-जल स्तर में वृद्धि के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएं। उन्होंने कहा कि आकांक्षी जिलों में आयुष्मान योजना के क्रियान्वयन का विशेष ध्यान रखा जाए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह भी निश्चित किया जाए कि इन जगहों में हितग्राहियों को योजना का लाभ मिल सके। मोदी ने सुगम्य भारत अभियान के तहत सार्वजनिक स्थलों एवं शासकीय भवनों में दिव्यांगों की सुविधा के लिए बनाई जा रही संरचनाओं के विषय में जानकारी ली। उन्होंने दिव्यांगों से ही सुविधाओं के विषय में सुझाव आमंत्रित करने की बात कही। मोदी ने कहा कि इस संबंध में पूरी संवेदना के साथ कार्य किया जाए। बैठक में शहरी विकास, वित्त, रेलवे बोर्ड, सड़क परिवहन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, समाज कल्याण और पेयजल एवं स्वच्छता विभाग से संबंधित राज्यों के विभिन्न परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की गई।

Tags

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जल संरक्षण और वर्षा जल के संचयन आयुष्मान योजना

Related Articles

More News