गायक अनु मलिक ने मेरी स्कर्ट उठाई और अपने पैंट को उतार दिया, दो महिलाओं की मी टू स्टोरी

मुंबई. मी टू अभियान के चलते दो और महिलाएं आगे आ गई हैं और प्रसिदध गायक अनु मलिक पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है। इसके पहले जूनियर गायिका सोना महापात्रा और श्वेता पंडित ने आरोप लगाया था लेकिन मलिक ने इसे खारिज करते हुए निराधार और झूठा बताया था. 

अज्ञात महिलाओं में से एक ने बताया कि वह 1990 में मलिक से स्टूडियो में मिली थी क्योंकि मैं नेक कार्यों हेतु फण्ड राइजिंग का कार्य कर रही थी. उस दिन मैंने उनसे घर में मुलाकात की. वह सोफे पर मेरे बगल में बैठा था. मुझे एहसास हुआ कि मैं फंस गई हूं क्योंकि उनका परिवार घर पर नहीं था। फिर उसने मेरी स्कर्ट उठाई और अपना पैंट गिरा दिया। मैंने उसे धक्का देने और दरवाजे से बाहर निकलने की कोशिश की लेकिन वह बहुत मजबूत थे इसलिए कोशिशें बेंकार गई हालांकि जल्द ही कमरे की घंटी बज गई. 

महिला ने कहा कि मलिक ने उसे धमकी दी और उससे कहा कि किसी के साथ इसके बारे में बात न करें। मैंने उनका घर छोड़ने की तैयारी की लेकिन वह मुझे खींचकर अपने कमरे में ले गए. अपनी पैंट खोली और मेरा चेहरा अपनी गोद की ओर झुका दिया. फिर चाटने के लिए कहा. मैंने मना कर दिया. इसी दौरान कमरे की घण्टी बन गई. कमरा खोलने पर सामने गॉर्ड था. उसके बाद अनु मलिक जल्दी से बाहर निकल गए. 

एक अन्य महिला ने कहा कि मैं अनु मलिक से जॉब मांगने गई थी. वे थोड़ा साइको हैं. मेरा हाथ पकड़ते हुए उन्होंने कहा कि चलो कमरे में. जब मैंने मना कर दिया था तो वे हंसते हुए बोले कि नहीं मैं अपनी पत्नी से संतुष्ट हूं. 


Tags

Anu Malik Mee too Sona mahapatra Sweta pandit

Related Articles

More News