छत्तीसगढ़

एनएमडीसी ने बिक्री एवं उत्‍पादन में फरवरी में अब तक के सर्वोच्‍च आंकड़े हासिल किए

उत्‍पादन में 19%(6.2 एलटी) तथा बिक्री में 12%(3.4 एलटी) की वृद्धि

हैदराबाद, देश की सबसे बड़ी लौह अयस्‍क उत्‍पादक एनएमडीसी ने फरवरी, 2021 के दौरान उत्‍पादन तथा बिक्री में श्रेष्‍ठ प्रचालनात्‍मक प्रदर्शन जारी रखा।

फरवरी, 2021 में लौह अयस्‍क का उत्‍पादन 3.86 मिलियन टन रहा जो फरवरी, 2020 में हुए 3.24 एमटी उत्‍पादन पर 19 % की वृद्धि है।

फरवरी, 2021 में लौह अयस्‍क की बिक्री 3.25 एमटी रही जो फरवरी, 2020 की 2.91 एम टी बिक्री पर 12 % वृद्धि है।

छत्तीसगढ़ में बैलाडीला परियोजनाओं में फरवरी 2021 में उत्‍पादन 3.15 एमटी रहा जो पिछले वर्ष के फरवरी 2020 माह में 2.93 एमटी उत्‍पादन की तुलना में 8 % वृद्धि दर्शाता है।

फरवरी,2021 माह में बैलाडीला परियोजनाओं से लौह अयस्‍क की कुल बिक्री 2.62 एम टी रही जो पिछले वर्ष फरवरी 2020 के 2.42 एमटी से 8% अधिक है।

श्री सुमित देब, अध्‍यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक ने फरवरी, 2021 के उत्‍पादन एवं बिक्री के आंकड़ों पर चर्चा करते हुए कहा कि “प्रचालन संबंधी चुनौतियों के बावजूद उत्‍पादन एवं बिक्री के आंकडे निश्चित रूप से एनएमडीसी के प्रगतिशील चरित्र को दर्शाते हैं। यह उपलब्धि कर्मचारियों की कड़ी मेहनत एवं प्रतिबद्धता के कारण संभव हुई है। हम उत्‍पादन एवं बिक्री में क्रमशः वृद्धि करने एवं निरंतर नए रिकॉर्ड स्थापित करने आशा करते हैं । “

एनएमडीसी ने हाल ही में दोणिमलै परियोजना में प्रचालन पुन: प्रारंभ किया है। उक्‍त खान की लौह अयस्‍क उत्‍पादन क्षमता न्‍यूनतम 0.5 एमटी प्रति माह है। दोणिमलै में पुन: प्रचालन होने से कंपनी के समग्र निष्‍पादन में और अधिक वृद्धि होगी ।

Back to top button