Political

नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के बाद अरुण यादव हुए पार्टी से बाहर, बीजेपी ने आईटी सेल से हटाया

दिल्ली. पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के चलते भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपनी प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को पार्टी से निलंबित कर दिया था. उनके साथ ही नवीन कुमार जिंदल को भी पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था. अब हरियाणा बीजेपी के नेता अरुण यादव (Arun Yadav) पर कार्रवाई करते हुए बीजेपी ने उन्हें हरियाणा बीजेपी की आईटी सेल के इंचार्ज पद से हटा दिया है. रिपोर्ट के मुताबिक, अरुण यादव के खिलाफ यह कार्रवाई उनके विवादित ट्वीट की वजह से की गई है.

अरुण यादव लगातार विवादित ट्वीट कर रहे थे. यही वजह थी कि बीजेपी ने उनके खिलाफ कार्रवाई की. हरियाणा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ की ओर से जारी एक लेटर में कहा गया है कि अरुण यादव को उनके पद से तुरंत प्रभाव से मुक्त कर दिया गया है. अरुण यादव ने पिछले कुछ दिनों में पैगंबर मोहम्मद विवाद पर भी जमकर ट्वीट किए थे. उनके विवादित ट्वीट्स की वजह से ही ट्विटर पर लगातार उन्हें गिरफ्तार करने के लिए लगातार हैशटैग चलाए जा रहे थे और उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की जा रही थी.

क्या है पैगंबर मोहम्मद विवाद?

बीजेपी की प्रवक्ता रहीं नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी की थी. इसी टिप्पणी को लेकर नूपुर शर्मा के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन हुए और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी भारत की फजीहत हुई. लगातार विरोध प्रदर्शन और मामले की गंभीरता को देखते हुए बीजेपी ने नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल के खिलाफ कार्रवाई की.

बीजेपी ने नूपुर शर्मा को पार्टी की प्राथमिकता से निलंबित कर दिया और नवीन कुमार जिंदल को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया. बीजेपी ने उस समय इन बयानों से खुद को अलग करते हुए कहा था कि पार्टी किसी भी तरह से इस तरह के बयानों का समर्थन नहीं करती है और वह सभी धर्मों का बराबर सम्मान करती है. इसी मामले को लेकर कई देशों ने भारत का विरोध किया था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button