छत्तीसगढ़बड़ी खबरेंराष्ट्र

सुप्रीम कोर्ट में NEET UG Exam को लेकर हुए फैसले के बाद, छत्तीसगढ़ के 602 परीक्षार्थी फिर से दोबारा देंगे परीक्षा…

NEET UG Exam 2024: छत्तीसगढ़ के 602 अभ्यर्थी एक बार फिर से नीट की परीक्षा देंगे।बालोद और दंतेवाड़ा परीक्षा केंद्र में हुई गड़बड़ी के चलते

NEET UG Exam 2024: छत्तीसगढ़ के 602 अभ्यर्थी एक बार फिर से नीट की परीक्षा देंगे।बालोद और दंतेवाड़ा परीक्षा केंद्र में हुई गड़बड़ी के चलते इन छात्रों को एनटीए ने ग्रेस मार्क दिया था। जिसके चलते काफी विवाद भी हुआ था।

NEET UG Exam 2024: इसी छिड़े विवाद के बाद कुछ अभ्यर्थियों ने सुप्रीम कोर्ट में इसपर याचिका दायर कर दी थी।जिसपर कल हुई सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई में ग्रेस मार्क को रद्द कर दोबारा परीक्षा करवाने का आदेश जारी हुआ।

पांच मई को देशभर में मेडिकल और डेंटल कालेजों में प्रवेश के लिए नीट की परीक्षा आयोजित हुई। जिस दिन परीक्षा थी, उसी दिन से परीक्षा पर भरी विवाद होने लगा। पेपर लीक, सही समय पर परीक्षा केंद्रों में पेपर नहीं मिलने जैसे कई सारे विवाद सामने आने लगे।ग्रेस मार्क की वजह से अंकों में भारी गड़बड़ी हुई। 718, 719 अंक भी अभ्यर्थियों को मिले थे।

इस पर एनटीए के द्वारा बताया गया कि जिन भी परीक्षा केंद्रों में परीक्षा में देरी होने की शिकायत मिली है, वहां के छात्रों को इसमें ग्रेस मार्क दिए गए है, इस कारण से 718 और 719 अंक मिले हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार अब ग्रेस अंक पाने वाले परीक्षार्थियों की 23 जून को परीक्षा ली जाएगी, और 30 जून को इसका परीक्षा परिणाम आएगा।

हिंदी माध्यम के छात्रों को बांट दी अंग्रेजी पेपर

शिक्षकों ने दंतेवाड़ा के परीक्षा केंद्र में गलत पेपर बांट दिए। हिंदी माध्यम वाले छात्रों को अंग्रेजी माध्यम का पेपर थमा दिया।छात्रों ने जब शिकायत की तब तुरंत पेपर बदलकर हिंदी माध्यम का दिया गया।

दंतेवाड़ा के सिटी कोर्डिनेटर ने कहा की, 432 छात्र-छात्राएं परीक्षा के लिए इस केंद्र में पंजीकृत थे। उनमें से 417 उपस्थित और 15 अनुपस्थि रहे। 24 छात्रों के एक कमरे में बैठने की व्यवस्था थी, जहां पर ये गड़बड़ी हुई है। जानकारी के अनुसार उपस्थित छात्रों को ही फिर से परीक्षा देने का अवसर मिलेगा।

बैकअप पेपर को बांटा दिया

छात्रों को बालोद के सेंटर में गलत पेपर बांटा गया। लगभग 45 मिनट होने बाद शिक्षकों को इसकी जानकारी लगी की जिस प्रश्नपत्र को अभ्यर्थी हल कर रहे हैं, उसे नहीं बल्कि जो रखा हुआ है उसको हल करना है।जिसके बाद छात्रों से पेपर लेकर शिक्षकों ने उन्हें दूसरा पेपर दिया। इसके लिए छात्रों को कोई अतिरिक्त समय भी नहीं दिया गया।

सिटी कोर्डिनेटर के अनुसार एनटीए की ओर से एक बैकअप पेपर दिया जाता है, पेपर लीक की स्थिति होने पर ये बैकअप पेपर छात्रों को दिया जाता है।लेकिन गलती से वही बैकअप पेपर बट गया। 192 परीक्षार्थी इस परीक्षा केंद्र में पंजीकृत थे, जिनमे से 185 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी है।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button