Breaking NewsNational

BSF ने मार गिराया पाकिस्तानी ड्रोन, हेरोइन के दो पैकेट भी मिले, इलाके में सर्च अभियान चलाया गया

एलओसी पर पाकिस्तान की घुसपैठ की एक और कोशिश नाकाम कर दी गई है. सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने शुक्रवार को अजनाला सब-डिवीजन के अंतर्गत आने वाले रामसास गांव के पास एक ड्रोन को मार गिराया है. घटना सुबह करीब चार बजे की है. ड्यूटी पर तैनात कर्मियों ने ड्रोन की आवाज जैसे ही सुनी कि ऐकश्न में आए गए. इसके बाद कार्रवाई करते हुए ड्रोन को मार गिराया गया.

गुरदासपुर रेंज के डीआईजी प्रभाकर जोशी ने कहा, ”शाहपुर बॉर्डर आउट पोस्ट (बीओपी) के पास तैनात 73 बटालियन के जवानों ने ड्रोन को नीचे उतारा. ड्यूटी पर हमारे सैनिकों ने निपुणता दिखाया और फायरिंग कौशल और साहस का परिचय दिया. भारतीय क्षेत्र में धुसने के बाद ड्रोन को तुरंत मार गिराया गया.”

उन्होंने कहा, ‘ड्रोन पाकिस्तान की देवरी फॉरवर्ड पोस्ट के जरिए भारतीय सीमा में घुसा था. जिस इलाके में ड्रोन भेजा गया था, वह घने जंगलों वाला है. ड्रोन को गन्ने के खेत में मार गिराया गया. गोलाबारी के अलावा, आकाश को रोशन करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले रोशन बम भी हमारे सैनिकों द्वारा दागे गए. “

जांच करने पर ड्रोन से एक रस्सी भी जुड़ी हुई मिली. बीएसएफ और पंजाब पुलिस अभी भी इलाके की तलाशी ले रही है. बीएसएफ ने ड्रोन की जानकारी पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को दी. पुलिस के 70 मुलाजिमों ने गांव झंगड़ भैणी के आसपास सर्च अभियान चलाया, लेकिन यहां से कुछ भी बरामद नहीं हुआ है. उधर, फाजिल्का के डीएसपी सुबेग सिंह ने बताया कि उनको बीएसएफ ने सूचना दी थी कि भारत सीमा में रात के समय पाक ड्रोन घुस गया था. इसी सूचना पर उनके 70 मुलाजिमों ने पूरे इलाके में सर्च अभियान चलाया.

उन्होंने बताया कि बीएसएफ का कहना है कि ड्रोन के साथ हेरोइन के दो पैकेट थे. इस सूचना पर फाजिल्का के एसपी अजय राज सिंह और दो डीएसपी के नेतृत्व में यहां सर्च अभियान चलाया गया है. पुलिस ने फसलों, वृक्षों, ट्यूबवेल की बारीकी से जांच की. उन्होंने बताया कि अभी तक पुलिस को कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है लेकिन पुलिस अभियान जारी रखेगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!