CG Crimeछत्तीसगढ़

Chhattisgarh News: आत्महत्या करने उकसाया, पति को जेल‎

रायपुर. सूरजपुर‎ जुलाई माह में एक महिला ने अपने‎ घर में बच्चों के साथ आग लगाकर‎ ‎ आत्महत्या कर ली‎ ‎थी. इस मामले में‎ ‎ पुलिस ने उसके‎ ‎एसईसीएल कर्मी‎ ‎पति के खिलाफ‎ ‎ आत्महत्या के लिए‎ ‎ उकसाने का केस‎ दर्ज किया है.‎ 16 जुलाई रात में मोबाइल फोन से‎ शक्तिनगर जरही निवासी संजीव‎ चौधरी के घर में आग लगने की‎ सूचना पर भटगांव पुलिस तत्काल‎ मौके पर पहुंची थी.

आसपास के‎ लोगों की मदद से संजीव चौधरी की‎ पत्नी बसंती चौधरी 32 वर्ष बेटा‎ अनमोल 10 वर्ष और हिमांचल 6 वर्ष‎ को जली अवस्था में कमरा से‎ निकालकर इलाज के लिए एसईसीएल‎ अस्पताल भटगांव लाकर भर्ती‎ कराया. डॉक्टर ने तीनों को अंबिकापुर‎ रेफर किया और उन्हें जीवन ज्योति‎ हॉस्पिटल में भर्ती कराया. इलाज‎ के दौरान बसंती का 16 जुलाई और‎ दोनों बेटों की 17 जुलाई को मौत हो‎ गई. एपी रामकृष्ण साहू ने थाना प्रभारी‎ भटगांव को बारीकी से मर्ग जांच करने‎ के निर्देश दिए.

एसडीओपी प्रतापपुर‎ अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में थाना‎ भटगांव की पुलिस ने सभी बिंदुओं पर‎ जांच की. जांच में पता चला कि‎ बसंती का पति संजीव चौधरी‎ मोबाइल से अन्य महिला से बात‎ करता था. उसकी पत्नी अवैध सबंध‎ का शक करती थी और उस महिला‎ से पति को बात करने से मना करती‎ थी. इसके बाद भी पत्नी की बात नहीं‎ मानते हुए संजीव महिला से बात‎ करता था और झगड़ा कर शारीरिक व‎ मानसिक रूप से प्रताड़ित करता था.‎ इससे त्रस्त होकर बसंती अपने‎ दोनों बच्चों के साथ अपने घर में‎ ज्वलनशील पदार्थ से आग लगाकर‎ आत्महत्या की.

जांच पर आरोपी‎ संजीव चौधरी के खिलाफ थाना‎ भटगांव में केस दर्ज किया गया.‎ मामले में एसईसीएल शिवानी खदान‎ भटगांव क्षेत्र के माइनिंग सरदार के पद‎ पर कार्यरत आरोपी संजीव चौधरी‎ पिता बिरंजी प्रसाद चौधरी 32 वर्ष को‎ गिरफ्तार किया.‎

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button