दिल्लीदुनिया

Delhi-NCR और उत्तर-पश्चिम भारत में 16-17 जून को हो सकती है बारिश

नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर और उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में भीषण गर्मी पड़ रही है और कुछ इलाकों में लू की स्थिति से थोड़ी राहत मिलने की उम्मीद है, क्योंकि भारत मौसम विज्ञान विभाग ने सोमवार को इस क्षेत्र में 16 और 17 जून को बारिश की भविष्यवाणी की थी. मार्च, अप्रैल और मई से शुरू होने वाली गर्मी की लहरों की एक श्रृंखला के बाद, उत्तर पश्चिम भारत के अलग-अलग हिस्सों में जून में भी गर्मी की लहर का एक और दौर हो रहा है. रविवार को दिल्ली के कुछ इलाकों में और दक्षिण हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों में लू चल रही थी.

 दक्षिण-पूर्व उत्तर प्रदेश, झारखंड, दक्षिण-पश्चिम बिहार और उत्तरी ओडिशा के अलग-अलग हिस्सों में भी लू की स्थिति बनी रही. आईएमडी के पूवार्नुमान में कहा गया है कि अगले तीन दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत में अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना है, जबकि अगले दो दिनों के दौरान पूर्वी भारत में अधिकतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव की संभावना नहीं है.

हालांकि, लगातार पश्चिमी विक्षोभ और निचले स्तर की पूर्वी हवाओं के प्रभाव में, पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र – जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और आसपास के क्षेत्रों में गरज/बिजली के साथ छिटपुट वर्षा होने की संभावना है. पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली और राजस्थान के मैदानी इलाकों में 15 जून तक.

इसके पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में व्यापक रूप से व्यापक वर्षा होने की संभावना है और 16 और 17 जून को पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पूर्वी उत्तर प्रदेश में काफी व्यापक वर्षा होने की संभावना है.

आईएमडी के पूवार्नुमान में कहा गया है कि, 16 जून को जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तरी पंजाब और उत्तरी हरियाणा में भारी बारिश की संभावना है.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button