राष्ट्र

पुंछ में सेना की गाड़ी पर आतंकी हमले में पांच जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में सेना के एक वाहन पर आतंकियों ने गुरुवार दोपहर हमला बोल दिया. इससे सैन्य वाहन में आग लग गई और उसमें सवार राष्ट्रीय रायफल के पांच जवान शहीद हो गए. एक जवान घायल हो गया.

सेना ने देर शाम एक बयान जारी कर कहा कि गुरुवार दोपहर करीब तीन बजे राजौरी सेक्टर में भीमबेर गली और पुंछ के बीच कुछ अज्ञात आतंकवादियों ने सेना के एक वाहन पर हमला बोल दिया. इसके बाद सैन्य वाहन में भीषण आग लग गई. आशंका जताई जा रही है कि दहशतगर्दों ने ग्रेनेड से हमला किया, जिससे सैन्य वाहन में आग लगी. इसमें पांच जवान बुरी तरह जलने की वजह से मौके पर ही शहीद हो गए. वहीं, गंभीर रूप से घायल एक जवान को राजौरी स्थिति सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

सेना ने एक बयान में कहा है कि सभी पांचों जवान राष्ट्रीय राइफल्स यूनिट के थे. सेना प्रवक्ता ने लोगों ने इस घटना की तस्वीरें और वीडियो को शेयर न करने की अपील की है.

सेना के अनुसार, इन जवानों को उस क्षेत्र में आतंकरोधी गतिविधियों से निपटने के लिए तैनात किया गया था. घटना के बाद सेना ने क्षेत्र में खोजबीन अभियान शुरू किया. सेना ने बताया कि ड्रोन से तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. जिस इलाके में यह हादसा हुआ है वहां पिछले साल आतंकियों और सैन्य कर्मियों के बीच कई दिन तक मुठभेड़ भी हुई थी.

बारिश का फायदा उठाकर हमला दरअसल इस इलाके में पहले भी सैन्यबलों और आतंकियों के साथ मुठभेड़ हो चुकी है. ऐसे में माना जा रहा है कि आतंकियों का कोई समूह इस इलाके में सक्रिय है. जिन्होंने गुरुवार को बारिश का फायदा उठाकर सेना के वाहन पर हमला किया है. जिस समय यह हमला किया गया था उस वक्त इलाके में बारिश हो रही थी. बेहद कम दृश्यता का फायदा उठाकर आतंकियों ने इस घटना को अंजाम दिया.

चार शहीद पंजाब, एक ओडिशा से सेना ने बताया है कि शहीद पांच जवानों में से चार पंजाब के और एक ओडिशा से हैं. पंजाब के शहीदों में मनदीप सिंह (चानकॉयन काकन गांव), हरकिशन सिंह (तलवंडी बर्थ गांव), कुलवंत सिंह (चारिक), सेवक सिंह (बाघा) है, जबकि देवाशीष बसवाल ओडिशा के अलगुम समील खंडायत से हैं.

इलाके में पहले भी हुआ हमला जहां यह हादसा हुआ है उसी क्षेत्र में 14 अक्तूबर 2021 को आतंकियों ने हमला बोला था. इसमें तलाशी अभियान चला रहे दो जेसीओ समेत नौ जवान शहीद हो गए थे.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button