खास खबरNational

भारी बर्फबारी और बारिश के चलते रूकी हेमकुंड साहिब यात्रा

गोपेश्वर. रविवार देर रात के बाद सोमवार को भी हेमकुंड साहिब में बर्फबारी का दौर जारी रहा. भारी बर्फबारी और बारिश के चलते हेमकुंड साहिब यात्रा रोक दी गई. वहीं फूलों की घाटी की यात्रा पर मौसम खराब होने के चलते यात्री नहीं भेजे गए हैं. यहां जगह-जगह पर मार्ग क्षतिग्रस्त है, जिस वहज से यात्री पर्यटकों को घांघरिया में रोका गया है.

हेमकुंड में रविवार रात से सोमवार सुबह तक बर्फबारी जारी रही. हेमकुंड यात्रा मार्ग में बारिश होने के कारण एक महिला तीर्थयात्री घोड़े से गिर कर घायल हो गई है. उनका नाम राजवीर कौर, उम्र 32 साल निवासी लुधियाना हैं. बताया गया कि वह घोड़े से गिर गईं और उनका पैर टूट गया. उन्हें एसडीआरएफ पुलिस द्वारा प्राथमिक उपचार देकर पालकी की सहायता से घांघरिया भेजा गया है. वहीं बदरीनाथ हाइवे पर लामबगड़ के पास मलबा आने से मार्ग बंद हो गया था. बाद में जेसीबी द्वारा मलबा हटाकर मार्ग सुचारू किया गया.

 हालांकि, आज से प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में मौसम शुष्क होने के आसार हैं, जबकि पर्वतीय जिलों में कहीं-कहीं हल्की वर्षा हो सकती है. मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार अगले दो दिन मैदानी क्षेत्रों में मौसम शुष्क रह सकता है, जबकि पहाड़ में हल्की वर्षा और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है. बदरीनाथ हाईवे पर चौड़ीकरण के दौरान उभरे डेंजर जोन मानसून सीजन में भूस्खलन का सबब बन सकते हैं. इसके मद्देनजर प्रशासन व एनएच अभी से तैयारियों में जुट गया है.

 वर्तमान में बदरीनाथ हाईवे का आलवेदर रोड प्रोजेक्ट के तहत चौड़ीकरण का कार्य चल रहा है. हाईवे का कार्य देख रही एनएचडीसीएल व बीआरओ ने इन स्थानों पर सड़क की मरम्मत तो कर दी परंतु पहाड़ी से हो रहे भू-धंसाव की सिर्फ कार्ययोजना ही बन पाई है. इन डेंजर जोन में स्थायी ट्रीटमेंट को लेकर अभी समय लग सकता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button