CRIMENationalदुनिया

‘फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी लखीमपुर कांड की सुनवाई, मिलेगी ऐसी सजा, कांप उठेगी आत्मा’

लखीमपुर खीरी कांड में चार आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने बताया कि लड़कियों की  पहले से ही दोस्ती थी. एसपी ने बताया कि  बुधवार दोपहर लड़के गांव में आते हैं और बहला फुसला कर लड़कियों के गांव के एक खेत में जाते हैं  वहां उनसे जबरदस्ती शरीरिक संबंध बनाते हैं. इस पर लड़कियां शादी के लिए अड़ जाती हैं और आरोपी उनकी हत्या कर देते हैं. पुलिस का यह दावा आरोपियों के पूछताछ के आधार पर है. पोस्टमॉर्टम 2-3 घंटे में शुरू होने वाला है. 3 डॉक्टरों का एक पैनल पोस्टमार्टम कर रहा है.  वारदात में कुल छह लोग शामिल हैं. नामजद छोटू समेत छह आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं. आरोपियों में छोटू, सुहेल, जुनैद, हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन, आरिफ शामिल हैं. एक अभियुक्त जुनैद को पुलिस ने झंडी चौकी क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है. आरोपी जुनैद के पैर में गोली लगी है. पुलिस ने पॉक्सो और संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है. कल ऐसी बात सामने आई थी कि पुलिस ने जबरन पोस्टमार्टम कराया, जोकि गलत है. आरोपियों के कपड़े का और उनका डीएनए टेस्ट भी कराया जा रहा है.

घटना के बाद गुस्साए लोगों ने चौराहा जाम कर दिया और पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया. ग्रामीणों ने घटनास्थल पर जा रहे एसपी संजीव सुमन को भी घेर लिया. जानकारी के मुताबिक निघासन कोतवाली क्षेत्र के गांव तमोलिनपुरवा के बाहर एक दलित परिवार रहता है. बुधवार को घर पर दो बेटियां और उनकी बीमार मां थी. शाम करीब पांच बजे गांव से करीब पौन किलोमीटर दूर गन्ने के खेत में लगे एक खैर के पेड़ से दो सगी नाबालिग बहनों के शव लटकते मिले. दोनों के शव एक ही दुपट्टे से एक ही पेड़ से लटक रहे थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button