छत्तीसगढ़

अस्पताल में उपलब्ध अधोसंरचना का बेहतर से बेहतर उपयोग करें : मंत्री टी.एस. सिंहदेव

प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा, शिक्षा मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने आज रविवार को जिला चिकित्सालय और मेडिकल कॉलेज महासमुंद आकस्मिक पहुंचकर स्वास्थ्य सेवाओं और सुविधाओं का अवलोकन एवं व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने दवाई स्टोर, डायलिसिस सेंटर, हमर लैब, माइक्रोबायोलॉजी विभाग सहित अस्पताल के व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जहां वार्ड के मरीजों और स्वास्थ्य सुविधाओं को देखा। साथ ही फार्मासिस्ट से दवाओं की जानकारी भी ली। इस दौरान उन्होंने जिला चिकित्सालय में मरीजों के लिए आवश्यक मात्रा में दवाइयां भंडारण करने के निर्देश दिए।
उन्होंने भर्ती मरीजों और परिजनों से उपचार, व्यवस्थाओं की जानकारी ली। उन्होंने पूरे अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। अस्पताल, ऑक्सीजन प्लांट, पोषण पुनर्वास केन्द्र (एन.आर.सी.) में भर्ती बच्चों के पोषण एवं अन्य वार्डों में भर्ती मरीजों की जानकारी ली। अस्पताल को स्वच्छ रखने और ओपीडी एवं भर्ती मरीजों का संवेदनशीलता के साथ उपचार करने के आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
मंत्री टी.एस सिंहदेव ने निरीक्षण के दौरान निर्देशित किया कि अस्पताल में उपलब्ध अधोसंरचना का बेहतर से बेहतर उपयोग करें। जिले के साथ-साथ राज्य के सभी अस्पतालों का निरीक्षण कर बेहतर इलाज के लिए व्यवस्था को दुरुस्त किया जाएगा। इसके लिए पर्याप्त मात्रा में दवाइयों का भंडारण, बिस्तरों की व्यवस्था, आवश्यक जांच मशीन के साथ-साथ विशेषज्ञ डॉक्टरों की पदस्थापना भी की जाएगी।
निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि आम लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए शहर के मोहल्लों में हमर क्लिीनिक के नाम से अस्पताल स्थापित किए जा रहे है। इन अस्पतालों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की पदस्थापना की जाएगी। इन अस्पतालों के स्थापित होने से जिला चिकित्सालय में ओ.पी.डी. की संख्या में कमी आएगी। जिला चिकित्सालय में मरीजों के बेहतर इलाज करने के लिए चिकित्सकों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
उन्होंने अस्पताल को सर्व सुविधायुक्त बनाए रखने की बात कही। ताकि विशेष परिस्थितियों में आने वाले मरीजों को इलाज में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने अस्पताल में विशेषज्ञों, चिकित्सकों एवं स्टाॅफ की जानकारी ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button