दिल्लीNational

एलजी द्वारा भेजा गया नोटिस आप सांसद संजय सिंह ने फाड़ा

दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं, आप शासित दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल वीके सक्सेना के बीच जंग लगातार तेज होती जा रही है. पिछले दिनों आप नेताओं के द्वारा केवीआईसी के अध्यक्ष रहते अपने और बेटी पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोप को लेकर उपराज्यपाल सक्सेना के द्वारा भेजे गए लीगल नोटिस को फाड़ते हुए राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने उन पर फिर करोड़ों-अरबों की घोटाले का आरोप लगाया है. संजय सिंह ने कहा कि खादी ग्रामोद्योग का प्रमुख रहते हुए मजदूरों को भुगतान में करोड़ों की धांधली की गई.

संजय सिंह ने कुछ दस्तावजों के साथ भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा, दिल्ली के एलजी वीके सक्सेना महाभ्रष्ट, बेईमान और नंबर एक के भ्रष्ट व्यक्ति हैं. ऐसा भ्रष्टाचारी व्यक्ति जो केवीआईसी का अध्यक्ष रहते हुए 2.5 लाख कर्मचारियों का पैसा खा जाता है. ऐसा भ्रष्ट व्यक्ति जो खादी जैसी पवित्र संस्था को अपने लूट का अड्डा बना देता है. ऐसे भ्रष्टाचारी व्यक्ति को नरेंद्र मोदी जी बताइए आपने दिल्ली का एलजी क्यों बनाया? प्रेस वार्ता में संजय सिंह यहीं नहीं रूके एलजी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए कहा कि इसकी सीबीआई और ईडी से जांच होनी चाहिए. इस एलजी को गिरफ्तार करके जेल में डालना चाहिए. इसका भ्रष्टाचार का पर्दाफाश करो तो नोटिस भेजता है.

संजय ने नोटिस को फाड़ते हुए कहा कि वह उच्च सदन (राज्यसभा) के सदस्य हैं और उन्हें सच बोलने का हक है. संजय सिंह ने कहा, ‘वीके सक्सेना को मैं कहना चाहता हूं कि भारत का संविधान मुझे सच बोलने का अधिकार देता है. देश के सर्वोच्च सदन का सदस्य होने के नाते मुझे सच बोलने का अधिकार है. किसी चोर, भ्रष्ट व्यक्ति के नोटिस भेजने से मैं रुकने और डरने वाला नहीं हूं. ऐसे नोटिस को मैं 10 बार फाड़कर फेंकता हूं. तुम यदि सोचते हो कि तुम भ्रष्टाचार करोगे, लूट करोगे और भ्रष्टाचार को नोटिस के नीचे दबा लोगे तो यह संभव नहीं है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button