छत्तीसगढ़National

कल देर रात 106 घंटों की मशक्कत के बाद बोरवेल से बाहर आया राहुल, अपोलो हॉस्पिटल में डॉक्टरों की टीम कर रही इलाज

जांजगीर. पिहरीद में कल देर रात 106 घंटों की मशक्कत के बाद बोरवेल से निकले राहुल साहू को इलाज के लिए मंगलवार देर रात अपोलो हॉस्पिटल लाया गया। एम्बुलेंस में डॉक्टरों की टीम के साथ परिजन मौजूद भी मौजूद रहे। इस दौरान राहुल का बीपी, शुगर, हार्टबीट नॉर्मल था। उसकी स्थिति इतनी बेहतर थी, कि वह बिना ऑक्सीजन सपोर्ट के ही हॉस्पिटल पहुंचा, राहुल लंग्स भी क्लियर है।

राहुल ने रास्ते में ग्लूकोज भी लिया। अपोलो हॉस्पिटल में पहुंचने के बाद इमरजेंसी वार्ड में उसका प्राथमिक इलाज किया गया, फिर आईसीयू में एक्सपर्ट डॉक्टरों की टीम करेगी राहुल का इलाज कर रही है। अपोलो अस्पताल में राहुल के बेहतर इलाज के लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों को तैनात किया गया है। उसके परिजन भी साथ हैं।

अपोलो हॉस्पिटल प्रबन्धन के मुताबिक राहुल स्टेबल है, राहुल के इलाज के लिए प्रमुख रूप से शिशुरोग विशेषज्ञ, स्कीन स्पेशलिस्ट, लंग्स स्पेशलिस्ट व अन्य डॉक्टरों की तैनाती है। अपोलो हॉस्पिटल प्रबन्धन बुधवार सुबह 10 बजे मेडिकल बुलेटिन जारी करेगा, जिसमे राहुल के स्वास्थ्य के बारे में डिटेल जानकारी दी जाएगी।

आपको बता दें, कि जांजगीर के राहुल ने 106 घन्टे से अधिक समय बोरवेल में बिताकर एक नई जिंदगी हासिल की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button