CG Crimeछत्तीसगढ़

Raipur: प्रतिबंधित नशीली टेबलेट के साथ आरोपी मोहम्मद सरफराज गिरफ्तार

रायपुर. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल द्वारा रायपुर पुलिस के समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों, थाना प्रभारियों सहित प्रभारी एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट को प्रतिबंधित नशीली टेबलेट/सिरप की अवैध रूप से खरीदी-बिक्री एवं अवैध रूप से इस व्यवसाय में संलिप्त लोगों की पतासाजी कर कार्यवाही करने निर्देशित किया गया है. जिस पर समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों सहित एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट टीम द्वारा कार्य योजना तैयार कर इस पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाने हेतु थाना क्षेत्र में मुखबीर लगाकर लगातार पेट्रोलिंग व सूचना संकलन कर अवैध नशीली टेबलेट/सिरप के कारोबार की सूचना एकत्रित की जा रही है.

 इसी क्रम में दिनांक 18.06.2022 को सूचना प्राप्त हुई कि थाना सिविल लाईन क्षेत्रांतर्गत स्थित फॉरेस्ट कॉलोनी के पीछे, रोड किनारे पंडरी पास एक व्यक्ति दोपहिया वाहन में प्रतिबंधित नशीली टेबलेट रखा है तथा बिक्री करने कि फिराक में है. जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर तारकेश्वर पटेल एवं नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन वीरेन्द्र चतुर्वेदी द्वारा थाना प्रभारी सिविल लाईन सत्य प्रकाश तिवारी को सूचना की तस्दीक कर आवश्यक कार्यवाही करने निर्देशित किया गया. जिस पर थाना प्रभारी सिविल लाईन के नेतृत्व में थाना सिविल लाईन पुलिस की टीम द्वारा उक्त स्थान पर जाकर मुखबीर द्वारा बताए हुलिये के व्यक्ति एवं वाहन को चिन्हांकित कर पकड़ा गया. पूछताछ में व्यक्ति ने अपना नाम मो. सरफराज निवासी चैरसिया कॉलोनी संतोषी नगर, टिकरापारा रायपुर का होना बताया. टीम के सदस्यों द्वारा व्यक्ति एवं वाहन की तलाशी लेने पर वाहन की डिक्की से नाइट्रोसन – 10 नामक प्रतिबंधित नशीली टेबलेट रखा होना पाया गया. टीम के सदस्यों द्वारा उक्त टेबलेट रखने के संबंध में व्यक्ति से वैध दस्तावेज की मांग की गई, परन्तु उसके द्वारा इस संबंध में किसी प्रकार का कोई भी दस्तावेज प्रस्तुत न कर टीम को लगातार गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा था.

 जिस पर आरोपी मो. सरफराज को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से अलग – अलग स्ट्रीप में रखें कुल 400 नग नाइट्रोसन – 10 प्रतिबंधित नशीली टेबलेट कीमती लगभग 2,500/-रूपये तथा घटना में प्रयुक्त दोपहिया वाहन जप्त कर आरोपी के विरूद्ध थाना सिविल लाईन में अपराध क्रमांक 390/22 धारा 21(ख) नारकोटिक्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही की गई.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button