छत्तीसगढ़

राहुल को बचाने की जद्दोजहद, 45 घण्टे से जारी, पहला प्रयास विफल

जांजगीर- चांपा जिले में बोरवेल के लिए खोदे गए गड्ढे में फंसे राहुल को बचाने की जद्दोजहद पिछले 45 घंटे से जारी है। 10 साल का यह बच्चा राहुल करीब 47 घंटे से 50 फीट गहरे गड‌्ढे में फंसा हुआ है। इस बीच रोबोटिक्स तरीके से उसे निकालने की कोशिशों को झटका लगा है। राहुल को रोबोट के जरिए बाहर निकालने का पहला प्रयास विफल हो गया है। इसके बाद एक्सपर्ट की टीम दोबारा कोशिश कर रही है। वहीं NDRF की टीम ने सुरंग बनाकर राहुल तक पहुंचने का अभियान शुरू कर दिया है।
राहुल को बचाने के लिए गुजरात से रोबोटिक्स इंजीनियर महेश अहीर को बुलाया गया है। उन्होंने रोबोट के जरिए राहुल को बाहर निकालने का प्रयास किया, पर कीचड़ और पानी के चलते सफल नहीं हो सका। बताया जा रहा है कि अभी तक महेश ने जिन बच्चों को रोबोट के जरिए रेस्क्यू किया है, उनमें सभी की उम्र 3 से 5 साल के बीच थी। ऐसे में 10 साल का राहुल बड़ी चुनौती साबित हो रहा है। अब मौके पर SECL की रेस्क्यू टीम भी पहुंच गई है। साथ ही टनल को लेकर चर्चा की जा रही है।

जिला प्रशासन ने आपात स्थिति से निपटने के इंतजाम शुरू कर दिए हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित उनकी टीम मौजूद है। मौके पर ऑक्सीजन सिलेंडरों की भी व्यवस्था की गई है। इसके अलावा दो एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड भी मौजूद है। वहीं अतिरिक्त JCB, पोकलेन ,हाइवा भी मंगाए गए हैं। कोरबा और झारखंड से भी खदान एक्सपर्ट और कई मशीनें ड्रिल और अन्य कार्य के लिए मंगाई गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button