अन्य ख़बरेंNationalदिल्ली

फिर से होगी बारिश या मिलेगी राहत? जानें दिल्ली समेत आपके राज्य का हाल

नई दिल्ली। देशभर में मानसून लगभग विदाई ले चुका है. लेकिन पिछले कुछ दिनों में राजधानी दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में भारी बारिश ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. इस बीच तीन दिनों की लगातार बारिश के बाद अब बारिश से राहत देखने को मिल रही है. वहीं भारत मौसम विभाग (IMD) का कहना है कि अब आने वाले दिनों में बारिश की संभावना कम है. हालांकि राजधानी दिल्ली और एनसीआर में आसमान में बादल छाए रहेंगे.

इन राज्यों में हो सकती है बारिश

IMD के मुताबिक, अगले तीन दिनों में उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों और मध्य भारत में मानसून की वापसी की संभावना बढ़ जाएगी. इन राज्यों में इस दौरान बारिश देखने को मिल सकती है. अगले तीन दिनों में तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में छिटपुट भारी गिरावट और गरज के साथ हल्की/मध्यम वर्षा होने की संभावना है.

यूपी में बारिश की संभावना नहीं

वहीं, मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश में भी बारिश की संभावना नहीं है. यूपी में मानसून की वापसी हो चुकी है. हालांकि कुछ इलाकों में हल्की बारिश और बादल छाए रहने की संभावना है.

3-4 दिनों में हो जाएगी मानसून की वापसी

मौसम विभाग की मानें तो अगले 3-4 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत सहित मध्य भारत के कुछ हिस्सों से मॉनसून की वापसी के लिए स्थितियां अनुकूल हो गई हैं और अब इन राज्यों से मानसून की वापसी हो जाएगी. इस बीच कई राज्यों में बारिश की गतिविधियां भी देखने को मिल सकती हैं.

राजस्थान में अलर्ट

IMD ने राजस्थान के कुछ जिलों में बारिश की संभावना जताई है. राजस्थान में शाम होते ही कई जिलों में मौसम का मिजाज बदल गया. करौली, कोटा, बारां, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, सीकर, चूरू, झुंझनूं, अजमेर और भीलवाड़ा में मौसम का मिजाज बदला. मौसम विभाग ने हल्की से मध्यम बारिश की चेतावनी जारी की.

खतरे के निशान से ऊपर बह रही यमुना

पिछले दिनों हुई बारिश के बाद दिल्ली में यमुना नदी के तटवर्ती निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को निकालने के लिए ‘अलर्ट’ घोषित किया गया है और नदी का जलस्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर से ऊपर 206.18 मीटर तक पहुंच गया है, जो ऊपरी जलग्रहण क्षेत्रों में लगातार बारिश के बाद इस साल जलस्तर में अब तक की सबसे अधिक वृद्धि है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!