दुनिया

यूक्रेन ने रूसी परमाणु उद्योग पर प्रतिबंध लगाने की मांग की

कीव, 14 अगस्त  यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने जापोरिज्‍जया परमाणु ऊर्जा संयंत्र पर लड़ाई के मद्देनजर पश्चिम से रूस के परमाणु उद्योग के खिलाफ प्रतिबंध लगाने का आह्वान किया है. जेलेंस्की ने शनिवार शाम प्रसारित एक वीडियो संबोधन में कहा कि रूस लोगों को डराने और यूक्रेनी नेतृत्व और पूरी दुनिया को ब्लैकमेल करने के लिए दक्षिणी यूक्रेन में परमाणु ऊर्जा संयंत्र का उपयोग कर रहा है.

डीपीए समाचार एजेंसी ने बताया, रूस, हथियारों के मामले में एक परमाणु शक्ति, ‘कई देशों में परमाणु ऊर्जा संयंत्रों का निर्माण’ कर रहा है.

कीव और मॉस्को यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र पर बमबारी के लिए कई दिनों से एक-दूसरे पर जिम्मेदार होने का आरोप लगाते रहे हैं.

जेलेंस्की ने रूसी सैनिकों पर रूसी-कब्जे वाली साइट को एक किले के रूप में इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है, जहां से निकोपोल और मारहानेज के छोटे शहरों पर गोलीबारी की जाती है, जो कि निप्रो जलाशय के दूसरे किनारे पर स्थित है.

उन्होंने चेतावनी दी कि परमाणु ऊर्जा संयंत्र की साइट पर रूसी सैनिकों की तैनाती ‘यूरोप के लिए रेडियोधर्मी खतरे को उस स्तर तक बढ़ा देती है जो शीतयुद्ध के समय में टकराव के सबसे कठिन क्षणों में भी मौजूद नहीं था.”

जेलेंस्की ने वीडियो में ‘कड़ा जवाब’ देने का आह्वान किया.

इससे पहले, शनिवार को यूक्रेन ने पश्चिमी राज्यों से देश पर आक्रमण के दौरान किए गए रूसी युद्ध अपराधों पर मुकदमा चलाने में मदद करने का आह्वान किया.

यूक्रेन के रक्षा मंत्री ओलेक्सी रेजनिकोव ने शनिवार को फेसबुक पर प्रकाशित एक लंबे बयान में कहा कि कीव को सैन्य कानून के विशेषज्ञों और रूसी हमलावरों को दंडित करने के लिए युद्ध अपराधों की जांच में विशेषज्ञों की जरूरत है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button