NationalPolitical

‘शहरी नक्सली’ अपना रूप बदलकर गुजरात में प्रवेश करने की कर रहे कोशिश

भरूच. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को जंबूसर में देश के पहले बल्क ड्रग पार्क की आधारशिला रखी. प्रधानमंत्री ने जनसभा को भी संबोधित किया. उन्होंने कहा कि युवाओं के बीच शहरी नक्सली नए रूप में घुसकर उन्हें गुमराह कर रहे हैं.

 युवाओं को बर्बाद नहीं होने देंगे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, शहरी नक्सली ऊपर से आकर यहां पैर जमाने की कोशिशें कर रहे हैं. वह हमारे मासूम और ऊर्जावान युवाओं को गुमराह कर रहे हैं. हम अपनी युवा पीढ़ी को बर्बाद होने नहीं देंगे. हमें देश को बर्बाद करने पर तुले इन शहरी नक्सलियों से अपने युवाओं को बचाना है. वे विदेशी शक्तियों के एजेंट हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि नक्सली मानसिकता वालों ने सरदार सरोवर बांध परियोजना को अभियान चलाकर कई वर्षों तक रोका और कहा गया कि इससे पर्यावरण को नुकसान होगा. नक्सलवाद पर प्रहार प्रधानमंत्री ने कहा, मैं विशेष रूप से अपने आदिवासी भाइयों से कहना चाहता हूं कि नक्सलवाद की शुरुआत पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्से, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में हुई. नक्सलवाद हमारे आदिवासी युवाओं का जीवन बर्बाद कर रहा है. वे युवाओं को बंदूक थमाते हैं और उन्हें उकसाते हैं. सभी जगह यह संकट रहा.

बल्क ड्रग पार्क में दवा तैयार करने में इस्तेमाल होने वाले अलग-अलग तत्वों का निर्माण देश में ही होगा. इन तत्वों को एक्टिव फॉर्मास्युटिकल्स इनग्रीडिएंट्स (एपीआई) कहते हैं. सरकार इन पार्क की स्थापना से घरेलू दवा बाजार में प्रतिस्पर्धा को बढ़ाना चाहती है. विश्व में दवा निर्माण में भारत को शीर्ष पर ले जाने की योजना है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!