CG VYAPAM 2024: किस कारण से होता है टमाटर का रंग लाल? प्री एग्रीकल्चर टेस्ट परीक्षा में पूछे गए इस तरह के सवाल..

CG VYAPAM 2024: छत्तीसगढ़ व्यवसायिक परीक्षा मंडल (Vyapam) की तरफ से नौ जून से प्रवेश परीक्षा आयोजित कराने की कवायद शुरू

CG VYAPAM 2024: छत्तीसगढ़ व्यवसायिक परीक्षा मंडल (Vyapam) की तरफ से नौ जून से प्रवेश परीक्षा आयोजित कराने की कवायद शुरू हो गई है। जून और जुलाई में लगातार अलग-अलग तारीखों में कुल 11 प्रवेश परीक्षाएं होगी।

रायपुर। प्रवेश परीक्षाओं के आयोजित करने की शुरुआत प्री एग्रीकल्चर टेस्ट (पीएटी) प्री-वेटनरी पालीटेक्निक टेस्ट (पीवीपीटी), बीए बीएड, बीएससी बीएड के साथ हो चुकी है।

पीएटी और पीवीपीटी की परीक्षाएं प्रथम पाली में आयोजित हुई । लगभग 36 हजार छात्रों ने परीक्षा के लिए आवेदन किया हुआ था,जिसमें से 51 प्रतिशत छात्र ही प्रवेश परीक्षा में भाग लेने पहुंचे। प्रदेश के अन्य सभी जिलों में इसके लिए परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इस परीक्षा के जरिए बीएससी एग्रीकल्चर, हार्टीकल्चर, वेटनरी व फिशरीज के डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में प्रवेश की प्रकिया होगी।

हार्टीकल्चर में 1,300 सीटें वहीं बीएससी एग्रीकल्चर में लगभग ढ़ाई हजार सीटें हैं। बीए बीएड और बीएससी बीएड के लिए दूसरी पाली में परीक्षा आयोजित हुई।लगभग 26 हजार छात्रों ने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया हुआ था। जिसमें से सिर्फ 20 प्रतिशत छात्रों ने ही परीक्षा में शामिल हुए। बीए बीएड और बीएससी बीएड की राज्य में लगभग 200 सीटें हैं।

प्रश्नपत्र का स्तर रहा काफी अच्छा

परीक्षा देकर बाहर आए छात्रों ने बताया कि प्रश्नपत्र में पूछे गए प्रश्नों का स्तर ठीक रहा। परीक्षा में 150 अंकों के 150 प्रश्न आए।

जिसके पहले भाग में भौतिक रसायन शास्त्र, गणित और जीव शास्त्र से जुड़े सवाल पूछे गए। फिर दूसरे भाग मे फसल उत्पादन और उद्यान और तीसरे भाग में कुक्कुट पालन और पशुपालन के तत्व से संंबंधित सवाल आए थे।

परीक्षा में पूछे गए ऐसे सवाल

1.टमाटर का लाल रंग किस वजह से होता है?

2. बकरियों को न्यूनतम कितने प्रतिशत तक प्रोटीन खिलाना चाहिए?

3. किस पक्षी को सभी पालतू पक्षियों की नस्लों का वंशज माना जाता है?

4. गाय के निचले जबड़े में मध्य से किनारे की तरफ दांतों का क्रम है?

5. लंगड़ी ज्वर रोग किससे होता है?

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button