Nationalकॉर्पोरेटखास खबरदुनिया

पीएम मोदी गुजरात दौरे पर, लॉन्च किया ‘मिशन लाइफ’ 

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस मिशन लाइफ (पर्यावरण के लिए जीवन शैली) पुस्तिका, लोगो और टैगलाइन के शुभारंभ पर पीएम मोदी के साथ शामिल हुए. इस दौरान 120 देशों के राजदूत भी शामिल हुए. आज ही पीएम मोदी तापी के व्यारा में 1970 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गुजरात दौरे का आज दूसरा दिन है.उन्होंने मिशन लाइफ अभियान को लॉन्च किया.  मिशन लाइफ के ज़रिये पीएम मोदी पूरी दुनिया में एक आंदोलन की शुरुआत कर रहे हैं, जिसमें लोगों से कहा जा रहा है कि प्राकृतिक तरीकों पर आधारित रहन—सहन अपनाएं. ताकि जलवायु परिवर्तन के प्रभावों से लड़ा जा सके. जानिए क्या है ‘मिशन लाइफ’. क्या है इसकी खासियत.

मिशन लाइफ’ क्या है?

पीएम मोदी ने जिस गुजरात दौरे पर मिशन लाइफ लॉन्च किया. दरअसल, लाइफस्टाइल फॉर एनवायर्नमेंट (LiFE) अभियान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2021 में ग्लासगो में COP26 में लॉन्च किया गया था. जलवायु परिवर्तन को लेकर COP26 शिखर सम्मलेन हुआ था. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिशन लाइफ को लॉन्च किया था. इसमें लाइफ का मतलब लाइफस्टाइल फॉर एनवायर्नमेंट है. इस मिशन के मकसद की बात करें तो इसका उद्देश्य व्यक्तिगत और सामुदायिक स्तर पर मैक्रो उपायों और कार्यों को लागू करके जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को कम करना है.

लोगों से की जाएगी पर्यावरण बचाने के लिए शपथ लेने की अपील

मिशन लाइफ में दुनियाभर से एक नई शुरुआत की अपील की जाएगी. इसमें पर्यावरण को बचाने के लिए शपथ लेने और सेनानी बनने के अलावा संरक्षण की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित किया जाएगा. मिशन लाइफ में छोटी-छोटी चीजों के प्रति भी जागरूकता पैदा की जाएगी, कि कैसे प्लास्टिक बैग की जगह पर कपड़े के थैलों का उपयोग करें. ट्रैफिक सिग्नल पर गाड़ी का इंजन बंद रखें. लीक हो रहे नल को ठीक करें और अन्न का आदर करें.

मिशन लाइफ पीएम मोदी की परिकल्पना है और लॉन्च के बाद भारत के नेतृत्व में इसके एक वैश्विक जन आंदोलन बनने की आशा है, जिससे पर्यावरण की रक्षा और संरक्षण के लिए व्यक्तिगत व सामूहिक कार्रवाई को प्रोत्साहन मिलेगा.

पीएम मोदी ने कहा, “उदाहरण के तौर पर, कुछ लोग AC के टेंपरेचर को 17 या 18 डिग्री तक रखना पसंद करते हैं जबकि इससे पर्यावरण पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. एयर कंडीशनर (एसी) का तापमान 18 डिग्री पर रखने और फिर कंबल ओढ़ने के बजाए, एसी के तापमान को 24 डिग्री पर रखना और बिजली की खपत को कम करना बेहतर है.”

ये है मिशन लाइफ का उद्देश्य

मिशन लाइफ का उद्देश्य स्थिरता के प्रति हमारे सामूहिक दृष्टिकोण को बदलने के लिए त्रिस्तरीय रणनीति का पालन करना है. इसमें सबसे पहले व्यक्तियों को अपने दैनिक जीवन (मांग) में सरल लेकिन प्रभावी पर्यावरण के अनुकूल कार्यों का अभ्यास करने के लिए प्रेरित करना है.

दूसरा, उद्योगों और बाजारों को बदलती मांग (आपूर्ति) के लिए तेजी से प्रतिक्रिया देने में सक्षम बनाना और तीसरा दीर्घकालीन खपत और उत्पादन (नीति) दोनों का समर्थन करने के लिए सरकार और औद्योगिक नीति को प्रभावित करना शामिल है.

प्रधानमंत्री ने ग्लास्गो में मिशन लाइफ की शुरुआत करते हुए कहा था, ‘इस अभियान के पीछे का विचार यह है कि हम ऐसी जीवनशैली अपनाएं जो हमारी धरती के अनुकूल हो. ‘मिशन लाइफ’ अतीत से सीखता है, वर्तमान में संचालित होता है और भविष्य पर ध्यान केंद्रित करता है.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!