रूस का लूना लैंडिंग से पहले क्रैश , भारत ने कहा- चंद्रयान-3 उतरने के लिए तैयार

बेंगलुरु . चंद्रयान-3 का लैंडर विक्रम रविवार को चांद के दर पर पहुंच गया. सफलतापूर्वक रफ्तार घटाने के साथ चांद की सतह से इसकी दूरी महज 25 किलोमीटर रह गई है. इसके बाद दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग अभियान का अंतिम पड़ाव है. वहीं, रूस द्वारा भेजा गया यान लूना-25 लैंडिंग से पहले ही क्रैश हो गया.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने रविवार को एक्स पर पोस्ट में कहा, उसने चंद्रयान-3 मिशन के विक्रम लैंडर को चांद की कक्षा में थोड़ा और नीचे सफलतापूर्वक पहुंचा दिया. दूसरे और अंतिम डीबूस्टिंग (धीमा करने की प्रक्रिया) अभियान में विक्रम लैंडर सफल रहा. यह अब आंतरिक जांच की प्रक्रिया से गुजरेगा.

सॉफ्ट लैंडिंग का टीवी समेत कई मंचों पर सीधा प्रसारण होगा

चंद्रयान-3 की सॉफ्ट लैंडिंग का सीधा प्रसारण होगा. इसका प्रसारण 23 अगस्त, 2023 को शाम 5.27 बजे शुरू किया जाएगा. देशवासी इसे इसरो की वेबसाइट, यू-ट्यूब, इसरो के फेसबुक पेज और डीडी नेशनल टीवी चैनल पर देख सकेंगे.

नतीजे निकालेगा

चंद्रयान-3 मिशन के जरिये अंतरिक्ष अन्वेषण में भारत ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल करेगा. यह उपलब्धि भारतीय विज्ञान, इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी, उद्योग की ओर एक महत्वपूर्ण कदम है, जो अंतरिक्ष अन्वेषण में राष्ट्र की प्रगति को प्रदर्शित करता है.

– भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन

 

 

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button