खास खबरBreaking NewsCRIMEट्रेंडिंग न्यूज़

Video Call के जरिए आपत्तिजनक क्लिपिंग और फिर ब्लैकमेलिंग का खेल बढ़ा

अंजान नंबर से यदि कोई वीडियो कॉल आ रहा है तो सावधान रहने की जरूरत है. खासतौर पर उस समय, जब वीडियो कॉल किसी अंजान महिला द्वारा किया जा रहा हो. वीडियो कॉल पर महिलाएं अश्लील बातें करने के बाद वीडियो कॉल करती हैं और आपत्तिजनक क्लिपिंग बना लेती हैं. इसके बाद यह गिरोह उन क्लिपिंग को वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करते हैं और मोटी रकम अपने खातों में ट्रांसफर करा लेते हैं.

भोपाल में पिछले छह महीने में वीडियो क्लिपिंग वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने के 30 से ज्यादा मामले साइबर क्राइम पुलिस के पास पहुंचे हैं. जालसाज 10 लाख रुपए से अधिक की वसूली भी लोगों से कर चुके हैं. जालसाज ठगी के लिए सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं. इन गिरोह में महिलाएं भी शामिल हैं.

बदमाश ऐसे फंसाते हैं जाल में…

गिरोह की सदस्य महिलाओं के नाम से सोशल मीडिया फर्जी आईडी बनाते हैं. इसके बाद वह हाय और हेलो का मैसेज भेजते हैं. डीपी में महिला की सुंदर फोटो देकर अक्सर युवक उसका जवाब दे देते हैं. मैसेज पहुंचते ही जालसाज पहले अश्लील चेटिंग करते हैं. जब युवक इन बातों का जवाब देने लगता है तो महिला वीडियो कॉल पर बात करने का ऑफर देती है. वह वीडियो कॉल पर अश्लील बातें करते हुए न्यूड हो जाती है और सामने वाले को भी ऐसा करने को बोलती है. उसके साथी दूसरे मोबाइल से उसकी रिकार्डिंग कर अश्लील क्लिपिंग बना लेते हैं. उस क्लिपिंग को वायरल करने की धमकी दी जाती है और रुपयों की डिमांड शुरू होती है.

पुलिस की एडवायजरी…

  • इस प्रकार की घटना होने पर घबराएं नहीं, पुलिस से तत्काल संपर्क करें. सोशल मीडिया पर अपनी प्रोफाइल लॉक करके रखे तथा प्रोफाइल प्राइवेसी व सेटिंग को स्ट्रांग रखे.
  • संदिग्ध व्यक्ति की फेसबुक, इंस्टाग्राम प्रोफाइल का यूआरएल सेव करके रखे. धोखाधड़ी करने वाले लोगों के द्वारा भेजे गए वीडियो, चेटिंग स्क्रीनशॉट को बतौर साक्ष्य संकलित करके रखे.
  • सोशल मीडिया पर अंजान लोगों को दोस्त न बनाएं.
  • सोशल मीडिया पर अंजान लोगों से अपनी व्यक्तिगत, पारिवारिक, आर्थिक दोस्ती से संबंधित जानकारी शेयर न करें.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button