आज मंदिर के गर्भगृह में रामलला की मूर्ति स्थापित होंगे, देर रात क्रेन से लाई गई मूर्ति, जानें- आज के विधि-विधान

Ayodhya Mandir News: रामलला की मूर्ति आखिरकार राम मंदिर परिसर में पहुंच गई है. गुरुवार को इसी मूर्ति को गर्भगृह में रखा जाएगा. बुधवार रात को क्रेन की मदद से रामलला की मूर्ति को राम मंदिर परिसर के अंदर ले जाया गया. इसकी कुछ तस्वीरें भी सामने आईं. रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से पहले उनका आसन भी तैयार किया गया है. रामलला का आसन 3.4 फीट ऊंचा है, जिसे मकराना पत्थर से बनाया गया है.

इससे पहले राम मंदिर परिसर में रामलला की प्रतीकात्मक मूर्ति का भ्रमण कराया गया. इस मूर्ति को यहां फूलों से सजी एक पालकी में लाया गया था.

मंगलवार सुबह राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र ने बताया कि राम मंदिर निर्माण का कार्य पूरा हो गया है. रामलला के मंदिर में गर्भगृह होगा, यहां पांच मंडप होंगे. मंदिर ग्राउंड फ्लोर पर होगा. हालांकि, मंदिर के फर्स्ट फ्लोर में अभी थोड़ा काम बचा है. यहां राम दरबार होगा. मंदिर का दूसरा फ्लोर अनुष्ठान के लिए है. यहां अलग-अलग तरह के यज्ञ और अनुष्ठान होंगे. उन्होंने बताया कि 22 जनवरी को दोपहर लगभग 12.30 बजे मुहूर्त होगा. इससे पहले पूजा विधि शुरू कर दी गई है.

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भाग लेने वाले महेमानों को निमंत्रण पत्र बांटे जा चुके हैं. ऐसे में प्राण प्रतिष्ठ के दिन अयोध्या में देशभर के आम से लेकर खास लोगों मौजूद रहेंगे.

इस अवसर पर भारतीय रेलवे 200 से ज्यादा आस्था स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी में है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग राम मंदिर के दर्शन कर सकें. रेलवे द्वारा देशभर में अयोध्या के लिए आस्था स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही हैं. रेल मंत्रालय के सूत्रों ने इंडिया टुडे को बताया कि इस ट्रेन पर केवल परिचालन स्टॉपेज होंगे जो विभिन्न राज्यों के विभिन्न शहरों, टियर 1 और टियर 2 कस्बों से अयोध्या धाम स्टेशन तक 100 दिनों की अवधि के लिए चलेंगी. राम मंदिर, प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद भक्तों के दर्शन के लिए खुल जाएगा.

रेलवे के सर्कुलर के मुताबिक इन ट्रेनों में बुकिंग सिर्फ आईआरसीटीसी के माध्यम से की जाएगी. ट्रेन में खाने में आईआरसीटीसी द्वारा शाकाहारी भोजन दिया जाएगा.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button