छत्तीसगढ़

भेंट-मुलाकात/ बढ़ रहा कटेकल्याण, नवाचार से समृद्धि

कटेकल्याण में भेंट मुलाकात के कार्यक्रम के लिए पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को यहां के ग्रामीणों ने अपने नवाचारों के बारे में बताया। मुख्यमंत्री इससे बहुत खुश हुए। उन्होंने कहा कि शासन की योजनाएं वनांचल में रहने वाले लोगों के प्रभावी विकास के लिए बनाई गई है। इसका असर दिख रहा है। जिस तरह से कटेकल्याण में आजीविकामूलक गतिविधि चल रही है उससे इस क्षेत्र के तेजी से आर्थिक विकास को लेकर हम सब आश्वस्त हैं। मुख्यमंत्री ने आज अपने दौरे में डेनेक्स के नये यूनिट का शुभारंभ किया। इस मौके पर डेनेक्स के पांचवे यूनिट छिंदनार का एमओयू भी हुआ। यह एमओयू डेनेक्स एफपीओ और एक्सपोर्ट हाउस तिरुपुर के बीच हुआ। मुख्यमंत्री से इस मौके पर डेनेक्स की महिलाओं ने आटोग्राफ भी लिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने सांसद श्री दीपक बैज को एक शर्ट भी भेंट की। साथ ही उन्होंने ढेंकी चावल भी देखा। उन्होंने परंपरागत तरीकों के उपयोग को बढ़ावा देने की कोशिशों पर प्रसन्नता व्यक्त की। भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में फीडबैक भी लोगों से लिया। उन्होंने पूछा कि राशन समय पर मिल रहा है या नहीं। सभी ग्रामीणों ने कहा कि हाँ यह समय पर मिल रहा है। शेष सभी योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन की जानकारी ग्रामीणों ने दी।
माँ दंतेश्वरी का दर्शन कर 67 देवगुड़ियों का किया लोकार्पण- मुख्यमंत्री ने कटेकल्याण में विराजित मां दंतेश्वरी की पूजा अर्चना भी की तथा यहां 143 देवगुड़ियों का लोकापर्ण किया। इस मौके पर उपस्थित गायता, पुजारी, मांझी ने 7 हजार रुपए मानदेय दिये जाने पर मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया। उल्लेखनीय है कि बस्तर में भेंट मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री लगातार देवगुड़ियों का लोकार्पण कर रहे हैं।
इंग्लैंड में बेच रहीं महुआ, अब इंग्लैंड घूमने जाएंगी- पार्वती ने मुख्यमंत्री से कहा कि वनोपजों के उचित मूल्य दिलाने की आपकी योजना से हम सबको बड़ा लाभ मिला है। दंतेवाड़ा जिले में समूहों ने चालीस हजार क्विंटल महुआ बेचा है और इसका अच्छा रेट मिला है। उन्होंने बताया कि उनका महुआ इंग्लैंड भी जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि क्या बात है। बहुत अच्छा काम हुआ है। तुम्हें भी घूमने इंग्लैंड भेजेंगे।
आईआईटी में चयनित श्यामली ने जताया फ्री कोचिंग के लिए आभार- श्यामली ने मुख्यमंत्री से कहा कि शासन की योजना से मुझे फ्री कोचिंग मिली। मेरा चयन आईआईटी में हुआ है। मेहनत करने वाले प्रतिभाशाली बच्चों को शासन जिस तरह से मदद दे रहा है उससे हम सबको अपनी मंजिल मिल रही है। मुख्यमंत्री ने श्यामली को बधाई दी। इसी प्रकार एक दिव्यांग ने कहा कि मुझे आगे बढ़ना है लेकिन धन की कमी आड़े आ रही है। मुख्यमंत्री ने उन्हें उद्यम के लिए पचास हजार रुपए देने के निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री की घोषणाएं- मुख्यमंत्री ने कटेकल्याण में बिजली सबस्टेशन की बड़ी घोषणा की। इसके साथ ही उन्होंने कटेकल्याण में मिनी स्टेडियम, आश्रित गांव मोखपाल में मंगल भवन, लखारास में एनीकट और कुआकोंडा में पोस्ट मैट्रिक छात्रावास खोलने की घोषणा भी की। इसके साथ ही उन्होंने कटेकल्याण में दंतेश्वरी तालाब के सौंदर्यीकरण की घोषणा भी की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button