सामूहिक विवाह में 297 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया के मुख्य आतिथ्य में कांकेर जिले के अंतागढ़ में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत 297 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे। श्रीमती भेंड़िया ने दंपत्तियों को सुखमय जीवन के लिए आर्शीवाद देते हुए कहा कि योजना के क्रियान्वयन से कमजोर वर्ग के लोगों को राहत मिली है और फिजूल खर्ची रूकी है। सामूहिक विवाह में सभी समाज व वर्ग के लोग भागीदारी निभा रहें हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना अंतर्गत पहले 15 हजार रूपये का प्रावधान किया गया था, जिसे मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा बढ़ाकर 25 हजार रूपये कर दिया गया है। वर-वधु दोनों दिव्यांग होने पर निःशक्तजन विवाह योजना के तहत उन्हें एक लाख रूपये की सहायता दी जाती है। इस प्रावधान के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के प्रति आभार व्यक्त किया। परिणय सूत्र में बंधे नव दंपत्तियों को अपना आर्शीवाद देते हुए श्रीमती भेंड़िया ने उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अंतागढ़ के विधायक एवं मुख्यमंत्री अधोरंसचना विकास प्राधिकारण के सदस्य श्री अनुप नाग ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत सामुहिक विवाह का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें रीति-रिवाज, पंरपरा का पालन करते हुए बेटियों का सामूहिक विवाह संपन्न किया जा रहा है। अंतागढ़ में इस कार्यक्रम का आयोजन होना इस अंचल के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक माता-पिता अपने संतान के व्यस्क होते ही उनके विवाह के लिए चिंतित रहते है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से गरीब परिवारों को इस चिंता से मुक्ति मिली है, इस योजना के क्रियान्वयन से फिजूल खर्ची भी रूकी है। परंपरा का पालन करते हुए धूम-धाम से कन्या का विवाह संपन्न कराया जा रहा है। श्री नाग ने नव दंपत्तियों को उनके सुखमय जीवन के लिए अपनी शुभकामना एवं आर्शीवाद दिया।
कार्यक्रम को जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री हेमंत ध्रुव ने भी संबोधित किया। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए बहुत मदतगार साबित हो रहा है। कार्यक्रम को योजना आयोग की सदस्य श्रीमती कांतीबाई नाग ने संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार महिलाओं की आर्थिक मजबूती के लिए अनेक कार्यक्रम संचालित किया जा रहा हैं। स्व-सहायता समूहों के माध्यम से उन्हे आर्थिक गतिविधियों से जोड़ा जा रहा है, जिससे उनके जीवन स्तर में बदलाव आया है। 
अपर कलेक्टर श्री सुरेन्द्र कुमार वैद्य ने अपने उद्बोधन में बताया कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत अंतागढ़ में आयोजित कार्यक्रम में 297 जोड़ो का सामूहिक विवाह किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस योजना अंतर्गत शासन द्वारा दंपत्तियों को 19 हजार रूपये की सामग्री एवं एक हजार पांच सौ रूपये प्रोत्साहन एवं परिवहन राशि नकद प्रदाय की जाती है तथा 04 हजार 05 सौ रूपये आयोजन में व्यय किये जाते हैं। 

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button