30 साल की युवती निकली धोखेबाज, बुजुर्ग ग्राहक को लूटा, अब पुलिस ने किया अरेस्ट

धोखाधड़ी के भाग युवती भाग गई थी पुणे

रायपुर की पुलिस ने 30 साल की युवती को गिरफ्तार किया है। यह लड़की पेशे से इंडसइंड बैंक में असिस्टेंट मैनेजर का काम करती है। मगर वारदात धोखाधड़ी और चोरी की कर चुकी है। इसने अपने ही बैंक के 73 साल के बुजुर्ग ग्राहक को लूटा। बुजुर्ग को जानकारी दिए बगैर उसका ATM खुद रख लिया और रकम निकालती रही। मोहतरमा यहीं नहीं रुकीं। उसने बुजुर्ग को बिना बताए उसके परिजन का बीमा करवा दिया, इसमें भी रकम की गड़बड़ी की।

तिल्दा के रहने वाले रिटायर कर्मचारी 73 साल की मनहरण दास वैष्णव का खाता तिल्दा के इंडसइंड बैंक की ब्रांच में था। मामले में आरोपी सुष्मिता त्रिपाठी नाम की असिस्टेंट मैनेजर को यह बात पता थी कि बुजुर्ग ATM यूज करना नहीं जानते।
इसका गलत फायदा उठाकर बुजुर्ग का ATM अपने पास रख लिया, बैंक अकाउंट की सारी डीटेल तो पहले से ही सुष्मिता के पास थी। वो बुजुर्ग के खाते से रकम निकालती रही। कभी रोज की जरूरत के लिए 100-150 तो एक बार 40 हजार रुपए तक निकाले। बिना बताए बुजुर्ग के परिवार का बीमा कर दिया।

बीमा प्रीमीयम जमा नहीं हुआ तो बुजुर्ग के पास एक लैटर पहुंचा, तब उन्हें पता चला। खाते की जांच घरवालों ने की तो रकम निकाले जाने की बात सामने आई। परिवार शिकायत लेकर बैंक पहुंचा तो तिल्दा ब्रांच के मैनेजर सुनील कुमार देवांगन डिप्टी मैनेजर प्रताप कुमार दास, रीजनल मैनेजर बृजेश तिवारी ने इस पूरे मामले को दबाने की कोशिश की और सुष्मिता भी भागकर पुणे चली गई।
सुष्मिता की गिरफ्तारी की लिए टीम पुणे रवाना हुई अब इसे पकड़कर तिल्दा थाने की पुलिस रायपुर ले आई है। पुलिस को पता चला है कि सुष्मिता त्रिपाठी के खिलाफ बिलासपुर के सिविल लाइन थाने में धोखाधड़ी का एक और केस दर्ज, इससे पूछताछ की जा रही है।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button