54 फीसदी महिलाओं और 46 प्रतिशत पुरुषों को है हाई ब्लड प्रेशर की समस्या, सर्वे में आए चौंकाने वाले तथ्य

नई दिल्ली। भारत में हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी पुरुषों में ज्यादा पाई जाती है. लेकिन ये नया सर्वे बता रहा है कि महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी पुरुषों से ज्यादा पाई जा रही है. हाई ब्लड प्रेशर दिल के लिए खतरे का बड़ा संकेत होता है. ऐसे में इस सर्वे के मुताबिक महिलाओं में दिल की बीमारियों का खतरा भी ज्यादा होता है. हालांकि ये सर्वे एक नए हेल्थ टेक स्टार्टअप मेडो (Meddo) ने किया है. और इसका सैंपल साइज़ बहुत बड़ा नहीं है. सर्वे में 844 लोगों के डाटा का विश्लेषण किया गया. ये सर्वे वर्ल्ड हार्ट डे (29 सितंबर) के मौके पर किया गया है.

इस वजह से बढ़ रहे हैं हाई ब्लड प्रेशर के मामले

सर्वे में महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर के ज्यादा पाए जाने की वजहों पर भी काम किया गया है. मेडो हेल्थ (Meddo Health) के सीईओ सौरभ कोचर के मुताबिक महिलाओं में नमक और वसा वाली चीजों का सेवन ज्यादा करने की आदत पाई गई है. इसके अलावा मीनोपॉज के दौरान हार्मोन में हो रहे बदलाव, लंबें समय तक गर्भ निरोधक के तौर पर ओरल contraceptive pills का इस्तेमाल और गर्भवती होने के दौरान भी शरीर में आने वाले शारीरिक और मानसिक बदलाव उन्हें दिल की बीमारी के खतरे के नजदीक ले जाते हैं.

सर्वे में ये भी सामने आया कि कोविड लॉकडाउन के दौरान दिल की बीमारियों के मामले बढ़े हैं. आइसोलेशन यानी अकेले घरों में बंद रहना, नौकरियों का जाना, कारोबार का नुकसान और लोगों का एक्सरसाइज़ न कर पाना – इन सब कारणों ने मिलकर भारत में दिल की बीमारियों और हाईबीपी के मरीज़ों की तादाद बढ़ा दी है.

इन टिप्स को करें फॉलो

औसतन 120/80 के ब्लड प्रेशर को सामान्य माना जाता है. इसमें 10 नंबर कम या ज्यादा हो सकते हैं. लेकिन अगर किसी का ब्लड प्रेशर लगातार 140/90 से ज्यादा चल रहा है तो इसे हाइपरटेंशन मानना चाहिए. भारत में दिल की बीमारियों के 90 प्रतिशत से ज्यादा मामले खराब लाइफ स्टाइल की देन हैं. इसका सीधा मतलब ये है कि आपको कुछ टिप्स जरूर फॉलो करने चाहिए:

  • समय पर जागना और सोना – 8 घंटे की पूरी नींद लेना.
  • हफ्ते में कम से कम तीस मिनट और तीन दिन चलने फिरने जैसी साधारण कसरत करना.
  • ताज़ा हरी सब्जियों और फल वाला खाना, और जंक फूड से दूर रहना.
  • सिगरेट और शराब से दूरी बनाना.

केवल इतना भी कर लिया जाए तो जो लोग ब्लड प्रेशर के मुहाने पर खड़े हैं यानी अभी 120/80 से थोड़ा ही आगे बढ़े हैं वो दिल के मरीज होने से बच सकते हैं.

Related Articles

Back to top button