आनंद ने तय किया मजदूर से मंत्री तक का सफर

नई दिल्ली. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पहली बार विधायक बने राजकुमार आनंद पर भरोसा जताया है. आनंद दिल्ली सरकार की कैबिनेट का हिस्सा होंगे. उनकी जीवनयात्रा बेहद संघर्षपूर्ण रही है. कड़ी मेहनत कर बाल मजदूर से मंत्री तक का सफर तक किया.

 केजरीवाल ने बुधवार को बताया कि राजकुमार आनंद हमारी सरकार में मंत्री बनेंगे. इसके लिए एलजी को चिट्ठी भेज दी गई है. राजकुमार आनंद के नाम की घोषणा से एक दिन पहले मंगलवार को राजेंद्र पाल गौतम का इस्तीफा मंजूर होने के बाद अधिसूचना जारी हुई थी. सूत्रों की मानें तो राजकुमार आनंद मंत्री बनने के बाद राजेंद्र पाल गौतम के समाज कल्याण विभाग, एससी-एसटी व ओबीसी और को-ऑपरेटिव सोसायटी वाले विभाग देखेंगे. राजकुमार आनंद पहली बार ही दिल्ली विधानसभा पहुंचे थे.

 घर पर लगा समर्थकों का तांता राजकुमार आनंद को मंत्री बनाए जाने की सूचना के साथ उनके घर पर समर्थकों का तांता लगा रहा. राजकुमार आनंद ने कहा कि मैं ढाई साल से विधायक हूं. इतने कम समय में मैंने अपने इलाके में बहुत काम किया है.

Related Articles

Back to top button