आवक बढ़ी, सब्जियां हुई सस्ती

रायपुर. सीजनल आवक बढ़ने के साथ सब्जियों की कीमतों में 10-15 रुपए प्रति किलो की गिरावट आई है. राजधानी के थोक बाजार में अभी 60 प्रतिशत सब्जियां राज्य के बाहर से आ रही है. प्रदेश के किसानों के साथ ही थोक बाजार में आंध्रप्रदेश, यूपी, बिहार और असम की मांग निकलने से कीमतों में ज्यादा कमी नहीं आई है.
श्रीराम थोक सब्जी विक्रेता समिति के अध्यक्ष टी. श्रीनिवास रेड्डी ने मीडिया को बताया कि पिछले हफ्ते ट्रक ड्राइवरों की हड़ताल से आवक घटने और अच्छी डिमांड होने के कारण सब्जियों के भाव बढ़े थे. आपूर्ति सामान्य होने से अब सब्जियां सस्ती हुई है. किसानों और थोक बाजार में राज्य के बाहर की मांग अच्छी निकलने से कीमतों में ज्यादा कमी नहीं आई है. प्रदेश से सबसे ज्यादा टमाटर आंध्रप्रदेश, यूपी, बिहार और असम भेजा जा रहा है. रायपुर जिले के साथ ही धमधा के किसानों से दूसरे राज्यों के व्यापारी सीधी खरीदी कर रहे हैं. भिंडी, बरबट्टी, लाल बरबट्टी, मुनगा और डेंस 70 से 80 रुपए किलो है. शेष सभी सब्जियां 20 से 50 रुपए प्रति किलो में मिल रही है.
टमाटर 10 से 15 रुपए प्रति किलो
सब्जी बाजार में टमाटर सबसे सस्ता है. स्थानीय आवक बढ़ने के साथ चिल्हर बाजार में भाव 10-15 रुपए किलो पर आ गए हैं. मटर 30-40 रुपए, गाजर 30-40 रुपए, चुकंदर 35-40 रुपए, हरी मिर्च 40-45 रुपए, प्याज 25-30 रुपए, धनिया 30-40 रुपए, पत्तागोभी 20-25 रुपए, फूलगोभी 30-40 रुपए, भिंडी 70-80 रुपए, बरबट्टी 70-80 रुपए, लाल बरबट्टी 70-80 रुपए, करेला 60-70 रुपए किलो में बिक रही है.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button