अक्टूबर माह में लगातार 9 दिन बंद रहेंगे बैंक, अभी से रख लें घर में कैश

नई दिल्ली। अक्टूबर का महीना फेस्टिव मंथ है. इस दिन करीब तीन हफ्तों तक बैंक बंद रहने वाले हैं. खास बात तो ये है कि साल की सबसे लंबा बैंकों का अवकाश भी इसी महीने में है. जो कि एक तारीख से शुरू होगा और 9 अक्टूबर तक जारी रहेगा. वैसे 9 दिनों का यह अवकाश एक साथ नहीं रहने वाला है. स्थानीय त्योहारों के हिसाब से बैंकों का अवकाश अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग रहने वाला है. ऐसे में आपको अभी से तैयारी करने की जरुरत है. इसका कारण भी है. कई लोग को ऑनलाइन ट्रांजेक्शन या डिजिटल ट्रांजेक्शन में विश्वास नहीं रखते हैं और एटीएम से भी आप तय राशि से ज्यादा नहीं निकाल सकते हैं. ऐसे में आपको बैंक में जाकर ही ट्रांजेक्शन करना होगा. ऐसे में किसी को मोटे कैश की जरुरत है तो अभी से बैंक जाकर अपनी जरुरत के हिसाब से कैश निकाल सकता है. यहां हम आपको बताते हैं कि लगातार 9 दिन किन राज्यों में अवकाश रहेगा.

1 अक्टूबर – बैंक खातों का अर्धवार्षिक समापन – देश के सभी बैंकों में रहेगा अवकाश

2 अक्टूबर – रविवार और गांधी जयंती अवकाश – देश के सभी बैंकों में रहेगा अवकाश

3 अक्टूबर – दुर्गा पूजा (महा अष्टमी)- अगरतला, भुवनेश्वर, गुवाहटी, इंफाल, कोलकाता, पटना और रांची

4 अक्टूबर – दुर्गा पूजा/दशहरा (महा नवमी)/आयुधा पूजा/श्रीमंत शंकरदेव का जन्मोत्सव – अगरतला, बेंगलूरू, भुवनेश्वर, चेन्नई, गंगटोक, गुवाहटी, कानपुर, कोच्चि, कोलकाता, लखनउ, पटना, रांची, शिलांग और तिरुवंपुरम

5 अक्टूबर – दुर्गा पूजा/दशहरा (विजय दशमी)/श्रीमंत शंकरदेव का जन्मोत्सव- अगरतला, अहमदाबाद, आईजॉल, बेलापुर, बेंगलूरू, भोपाल, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, चेन्नई, देहरादून, गंगटोक, गुवाहटी, हैदराबाद, जयपुर जम्मू, कानपुर, कोच्चि, कोलकाता, लखनउ, मुंबई, नागपुर, नई दिल्ली, पणजी, पटना, रायपुर, रांची, शिलांग, शिमला , श्रीनगर और तिरुवंतपुरम

6 अक्टूबर – दुर्गा पूजा (दशाईं) – गंगटोक

7 अक्टूबर – दुर्गा पूजा (दशाईं) – गंगटोक

8 अक्टूबर – दूसरा शनिवार अवकाश और मिलाद-ए-शरीफ/ईद-ए-मिलाद-उल-नबी (पैगंबर मुहम्मद का जन्मदिन) – भोपाल, जम्मू, कोच्चि, श्रीनगर और तिरुवंतपुरम

9 अक्टूबर – रविवार – देश के सभी बैंकों में रहेगा अवकाश

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button