भज्जी नहीं पहुंचे जीत का सर्टिफिकेट लेने, प्रतिनिधि ने लिए प्रमाण पत्र

आम आदमी पार्टी (AAP) के कोटे से घर बैठे राज्यसभा के सदस्य बने क्रिकेटर हरभजन सिंह शुक्रवार को जीत का सर्टिफिकेट लेने नहीं पहुंचे। उनकी जगह पर उनके प्रतिनिधि गुलजार चहल को यह सर्टिफिकेट सौंपा गया। इस बात से चुनाव अफस नाखुश हैं। वह इस संबंध में भारतीय चुनाव आयोग (ECI) को रिपोर्ट भेज रहे हैं। हरभजन सिंह क्यों नहीं आए? इसके बारे में स्पष्ट नहीं हो सका है।
वहीं राघव चड्‌ढा, कारोबारी संजीव अरोड़ा, दिल्ली IIT के प्रोफेसर डॉ. संदीप पाठक और लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (LPU) के अशोक मित्तल ने खुद सर्टिफिकेट लिया। उनके साथ मंत्री हरपाल चीमा,, लालचदं कटारूचक्क भी मौजूद रहे। यह सर्टिफिकेट चुनाव ऑब्जर्वर डॉ. करूणा राजू और रिटर्निंग अफसर सुरिंदर पाल ने सौंपे।
क्रिकेटर हरभजन सिंह जालंधर के रहने वाले हैं। मॉडलिंग और एक्टिंग में कामयाबी न मिलने के बाद उन्होंने राजनीति का रूख किया। पहले उनकी बात भाजपा से हुई। इसके बाद कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू उनसे मिले। हालांकि राजनीतिक करियर की सेफ शुरूआत करते हुए हरभजन ने AAP को चुना। उन्हें आप ने पंजाब से राज्यसभा सांसद बनाया है। चूंकि पंजाब में 117 में से AAP के 92 विधायक हैं, इसलिए उनकी जीत तय थी। इसी वजह से 31 मार्च को चुनाव से पहले ही पांचों सदस्यों को निर्विरोध विजेता घोषित कर दिया गया।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button