भारत पर्व वोकल फॉर लोकल प्रोत्साहित करने के लिए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि भारत पर्व ‘वोकल फॉर लोकल’ को प्रोत्साहित करने और विविधता का सम्मान करने के लिए है. हमें देश की विविधता का जश्न मनाने के लिए इस पर्व में शामिल होना चाहिए.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 127वीं जयंती (पराक्रम दिवस) पर लाल किला में आयोजित समारोह में मोदी ने कहा कि आजादी के बाद राजनीति में भाई-भतीजावाद, वंशवाद और भ्रष्टाचार ने देश के विकास को बाधित किया. उन्होंने महिलाओं और युवाओं से ये बुराइयां खत्म करने का आह्वान किया. उन्होंने कहा, आजादी के बाद भाई-भतीजावाद और वंशवाद की दोहरी बुराइयां हावी हो गईं.

प्रधानमंत्री ने कहा, नेताजी ने कहा था कि अगर हमें भारत को महान बनाना है तो राजनीतिक लोकतंत्र और लोकतांत्रिक समाज की नींव मजबूत होनी चाहिए. लेकिन दुर्भाग्य से आजादी के बाद उनके विचार पर गंभीर हमला हुआ. मोदी ने कहा, नेताजी देश के सामने मौजूद चुनौतियों को समझते थे और उनके बारे में आगाह करते थे. उन्होंने कहा कि भारत की युवा और महिला शक्ति देश की राजनीति को भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार की बुराइयों से मुक्त कर सकती है. हमें इन्हें हराने का साहस दिखाना होगा.

31 जनवरी तक भारत पर्व

प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान भारत पर्व भी लॉन्च किया. यह 31 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा, जिसमें गणतंत्र दिवस की झांकियों और सांस्कृतिक प्रदर्शनों के साथ देश की समृद्ध विविधता का प्रदर्शन किया जाएगा. यह लाल किले के सामने रामलीला मैदान और माधव दास पार्क में होगा. आगंतुक अभिलेखागार की प्रदर्शनियों, दुर्लभ तस्वीरों के जरिए गहन अनुभव से जुड़ सकेंगे.

 

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button