पीएफआई के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई, 10 राज्यों में छापेमारी, 100 कार्यकर्ता गिरफ्तार

NIA ने 10 राज्यों में बड़ी कार्रवाई की हैं. NIA, ED ने राज्य पुलिस के साथ PFI के 100 से अधिक कैडरों को गिरफ्तार किया है. एनआईए अब तक की अब तक की सबसे बड़ी जांच प्रक्रिया में कई जगहों पर तलाशी ले रही है. ये तलाशी आतंकवाद के वित्तपोषण, प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने और प्रतिबंधित संगठनों में शामिल होने के लिए लोगों को कट्टरपंथी बनाने में शामिल व्यक्तियों के आवासीय और आधिकारिक परिसरों में की जा रही है.

100 से अधिक कैडर गिरफ्तार

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 10 राज्यों में बड़ी कार्रवाई में की जा रही. NIA, ED ने राज्य पुलिस के साथ PFI के 100 से अधिक कैडरों को गिरफ्तार किया है. तमिलनाडु में NIA ने कोयंबटूर, कुड्डालोर, रामनाड, डिंडुगल, थेनी और थेनकासी सहित तमिलनाडु में कई स्थानों पर पीएफआई पदाधिकारियों के घरों की तलाशी ली. पुरसावक्कम में चेन्नई पीएफआई के राज्य प्रधान कार्यालय में भी तलाशी ली जा रही है.

कर्नाटक के मंगलुरु में NIA की छापेमारी के खिलाफ PFI और SDPI के कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं. NIA विभिन्न राज्यों में कई जगहों पर छापेमारी कर रही है.

तिरुवनंतपुरम NIA की रेड्स के दौरान PFI के समर्थक NIA जांच का विरोध करते हुए नारेबाजी कर रहे हैं, आज सुबह 3 बजे से तकरीबन 50 जगहों पर NIA की ये राज्यव्यापी कार्यवाई शुरू हुई है. PFI के नेशनल जनरल सेक्रेटरी नसीरुद्दीन इलममारम को NIA ने कस्टडी में ले लिया है.

जांच एजेंसियों ने पीएफआई के प्रदेश और जिला स्तरीय नेताओं के घर पर रेड की है. साथ ही इस बार एजेंसियों ने मलप्पुरम जिले के मंजेरी में पार्टी के चेयरमैन सलाम परद भी शिकंजा कसा है. सलाम के खिलाफ कार्रवाई के विरोध में पार्टी कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन जारी है. गुरुवार को बड़ी संख्या में जुटे कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की.

रविवार को भी NIA ने आंध्र प्रदेश के अलग-अलग जिलों में रेड की थी. उस दौरान PFI सदस्यों को पूछताछ के लिए ले जाया गया था. जांच एजेंसी ने हिंसा भड़काने और गैर कानूनी गतिविधियों से जुड़े मामलों में कार्रवाई की थी. उस दौरान NIA अधिकारियों की 23 टीमों में निजामाबाद, कुर्नूल, गुंटूर और नेल्लोर जिले में करीब 38 ठिकानों तलाशी ली थी.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button