भाजपा ने दूसरी पार्टियों के नेताओं के लिए द्वार खोले

नई दिल्ली . फिर एक बार मोदी सरकार… के नारे के साथ भाजपा का लोकसभा चुनावों का व्यापक संगठनात्मक अभियान शुरू हो गया है. राष्ट्रीय अधिवेशन में दिए गए इस नारे के साथ भाजपा ने दूसरे दलों के नेताओं के लिए भी अपने द्वार खोल दिए हैं.

केंद्र से लेकर राज्य व जिलों में बनाई गई ज्वाइनिंग कमेटियां पूरी तरह से सक्रिय हो गई हैं. चुनावों तक लगभग हर रोज कही न कहीं दूसरे दलों के प्रमुख नेताओं को भाजपा में लाया जाएगा. भाजपा ने केंद्रीय स्तर पर जिन नेताओं को इस टीम में शामिल किया है उनमें केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, अश्विनी वैष्णव, मनसुख मंडाविया, हिमंत बिस्व सरमा, विनोद तावड़े, सुनील बंसल, तरुण चुग व अनुराग ठाकुर शामिल हैं.

सूत्रों के अनुसार, पार्टी ने इन नेताओं को जिम्मेदारी दी है कि वह विभिन्न दलों व क्षेत्रों से भाजपा में आने के इच्छुक नेताओं की स्क्रीनिंग कर उनको शामिल करने के बारे में फैसला करें. कुछ नेताओं को कुछ प्रुमख राज्यों की जिम्मेदारी भी दी गई है कि वह उन राज्यों में इस काम को संभालें. पार्टी व सरकार के एक प्रमुख नेता ने कहा कि कई सांसद व पूर्व सांसद भाजपा में शामिल होने के लिए संपर्क में हैं. चूंकि अभी पार्टी अपने राष्ट्रीय अधिवेशन में व्यस्त थी, इसलिए इस काम को धीमा किया गया था, लेकिन अब इसमें तेजी लाई जाएगी. हाल ही में मध्य प्रदेश में जबलपुर के कांग्रेस के मेयर भाजपा में शामिल हुए थे. बड़े नेताओं में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण भाजपा का दामन थाम चुके हैं.

मध्य प्रदेश और पंजाब से कुछ नेता संपर्क में

सूत्रों के अनुसार, मध्य प्रदेश व पंजाब से कांग्रेस के कुछ प्रमुख नेता जिनमें सांसद भी शामिल हैं, भाजपा के संपर्क में हैं. हालांकि, पार्टी ने नामों को खुलासा नहीं किया है, लेकिन उसके नेताओं का कहना है कि जिनके नाम की चर्चा है, वह सभी संपर्क में हैं. इनके साथ लोकसभा चुनाव व सीट को लेकर बातचीत चल रही है.

 

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button