इस मशहूर फिल्म मेकर के खिलाफ CBI ने दर्ज किया केस, इतने करोड़ गबन करने का है मामला ….

नई दिल्ली : फिल्म निर्माता जसप्रीत सिंह वालिया उर्फ बंटी वालिया के खिलाफ सीबीआइ ने बैंक धोखाधड़ी के एक मामले में केस दर्ज़ किया है। मिली जानकारी के अनुसार अधिकारियों ने बताया की जून 2008 में वालिया सहित अन्य की व्यक्तिगत गारंटी पर जीएस एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड (जीएसईपीएल) को संजय दत्त और बिपाशा बसु स्टारर फिल्म ‘लम्हा’ की मेकिंग के लिए फिल्म वित्तपोषण योजना के तहत 23.5 लाख डॉलर (उस समय 10 करोड़ रुपये के बराबर) का एफसीएल और 4.95 करोड़ रुपये का आरटीएल मंजूर किया गया था।

बैंक ने किया है ये दावा

बैंक ने दावा किया है कि तय योजना के तहत फिल्म 2009 में रिलीज होनी थी, लेकिन “सभवत: प्रमोटर्स और एग्जीबिटर्स के बीच विवाद की वजह से इसकी रिलीज लटक गई.”बैंक ने कहा है कि 30 सितंबर 2009 को यह खाता एक नॉन परफॉर्मिंग एसेट (एनपीए) बन गया. इसके बाद, बैंक ने जीएसईपीएल, पीवीआर और आईडीबीआई बैंक के बीच एक उपयुक्त त्रिपक्षीय एग्रीमेंट के निष्पादन के तहत दुनियाभर में फिल्म रिलीज करने के लिए एकमात्र वितरक के रूप में पीवीआर को नियुक्त किया.

बैक का क्या है आरोप

बैंक का आरोप है, “हालांकि, पीवीआर अपनी कमिटमेंट पर खरा उतरने में नाकाम रहा, क्योंकि उसे लगभग 83.89 लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ा था. कंपनी द्वारा कलेक्ट की गई कुल कमाई 7.41 करोड़ रुपये थी, जबकि उसके द्वारा प्रमोट और डिस्ट्रिब्यूशन पर 8.25 करोड़ रुपये का खर्च किया गया था। लकिन पीवीआर अपनी प्रतिबद्धता का सम्मान करने में विफल रहा, क्योंकि इसे लगभग 83.89 लाख रुपये का घाटा हुआ।

यह है आरोप

बैंक ने आरोप लगाया कि एक फॉरेंसिक ऑडिट से पता चला है कि कंपनी ने एक ‘फर्जी उपयोग प्रमाण पत्र’ जमा किया, बैंक की राशि ट्रांसफर की और बही खाते में हेरफेर किया. उसने जीएसईपीएल पर धोखाधड़ी, जालसाजी, रिकॉर्ड में हेरफेर, सार्वजनिक धन की हेराफेरी, गलत बयानी और विश्वास के आपराधिक उल्लंघन का आरोप लगाया है, जिसके परिणामस्वरूप कर्ज को धोखाधड़ी घोषित किया गया।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button