खास खबर

आईसीएसई बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी, अब है सीबीएसई बोर्ड की बारी

नई दिल्ली, 18 जुलाई दिल्ली एनसीआर समेत देशभर के छात्रों को सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट का इंतजार है. इस बीच काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन आईसीएसई ने कक्षा दसवीं के नतीजे जारी कर दिए हैं. जारी किए गए नतीजों के मुताबिक, 99.80 प्रतिशत अंकों के साथ चार छात्रों ने टॉप किया है. टॉप करने वाले छात्रों में में तीन छात्राएं शामिल हैं. इसके साथ ही टॉप करने वाले चारों छात्रों में से तीन उत्तर प्रदेश से हैं.

आईसीएसई 10वीं कक्षा में 99.97 प्रतिशत छात्र-छात्राएं उत्तीर्ण हुए हैं. इनमें लड़कियों के पास होने का प्रतिशत 99.98 है. वहीं लड़कों के पास होने का प्रतिशत 99.97 फीसदी रहा. इन परीक्षाओं में अधिकांश छात्र उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, उड़ीसा आदि राज्यों से शामिल हुए थे. वहीं दिल्ली के अधिकांश छात्र सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल हुए हैं. सीबीएसई बोर्ड ने अभी दसवीं और बारहवीं कक्षा का रिजल्ट जारी नहीं किया है. बोर्ड के मुताबिक, जल्द ही इन कक्षाओं का रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा.

आईसीएसई बोर्ड के मुताबिक, टॉप करने वाले छात्रों में से एक हरगुन कौर मथारू, सेंट मैरी स्कूल, पुणे, महाराष्ट्र से हैं. जबकि शेष तीनों छात्र उत्तर प्रदेश से हैं. उत्तर प्रदेश से टॉप करने वाले छात्रों में बलरामपुर के पुष्कर त्रिपाठी, लखनऊ की कनिष्का मित्तल व कानपुर की अनिका गुप्ता शामिल हैं. इन परीक्षाओं में टॉपर रहे इन चारों ही छात्रों को 500 में से 499 अंक हासिल हुए हैं.

गौरतलब है कि इस वर्ष 25 अप्रैल से लेकर 23 मई तक काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन ने देश के विभिन्न केंद्रों पर कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षा का आयोजन किया था. इस परीक्षा में 2,31,063 छात्र शामिल हुए थे.

काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन और सीबीएसई बोर्ड दोनों ने ही द्वारा इस वर्ष बोर्ड की परीक्षाएं दो अलग-अलग चरणों में ली गई थीं. पहला चरण पिछले वर्ष नवंबर-दिसंबर माह के दौरान आयोजित किया गया था. शेष 50 प्रतिशत सिलेबस के लिए देशभर में सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाओं का दूसरा चरण इस वर्ष 26 अप्रैल से शुरू हुआ था. दूसरे चरण के लिए सीबीएसई की 10वीं कक्षा की परीक्षाएं 26 अप्रैल से 24 मई और 12वीं कक्षा के लिए सीबीएसई बोर्ड की यह परीक्षाएं 15 जून तक चली थीं. अब सीबीएसई इन दोनों चरणों की परीक्षाओं का परिणाम संयुक्त रूप से जारी करेगा.

सीबीएसई पहले और दूसरे चरण में हासिल किए गए अंकों के आधार पर कुल अंक प्रतिशत घोषित करेगा. इसके साथ ही छात्रों को अलग से ब्रेकअप भी प्राप्त होगा. सीबीएसई द्वारा घोषित किया जा रहा यह फाइनल रिजल्ट है, और इसमें प्रैक्टिकल परीक्षाओं के अंक भी शामिल होंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button