CGMSC में विधायकों ने IAS को किया रिप्लेस:प्रीतम राम मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष, विनय जायसवाल-केके ध्रुव संचालक बने

राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं में दवा, मेडिकल उपकरण आदि की खरीदी से जुड़ी एजेंसी छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन के प्रबंधन में जनप्रतिनिधियों को भी शामिल कर लिया है। लुंड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम को मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन संचालक मंडल का अध्यक्ष बना दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के करीबी माने जाने वाले डॉ. प्रीतम राम मेडिकल प्रेक्टिशनर रहे हैं। खंड चिकित्सा अधिकारी रहे। बाद में सरकारी नौकरी छोड़कर पूर्णकालिक राजनीति में शामिल हो गए। डॉ. प्रीतम राम 2013 में पहली बार सामरी सीट से कांग्रेस के विधायक चुने गए। 2018 के चुनाव में कांग्रेस ने उन्हें लुण्ड्रा से टिकट दिया था।

सरकार ने मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल और मरवाही विधायक डॉ. के.के. ध्रुव को भी संचालक मंडल में जगह देकर संचालक बना दिया है। दोनों मेडिकल प्रैक्टिस रहे हैं और पहली बार विधायक चुने गए हैं। डॉ. विनय जायसवाल और डॉ. के.के. ध्रुव बार-बार दिल्ली जाकर शक्ति प्रदर्शन करने वाले विधायकों की टीम का भी हिस्सा हैं। सरकार ने सिंहदेव के एक और करीबी नीलाभ दुबे को भी कॉर्पोरेशन का संचालक बनाया है।

अभी तक IAS अधिकारी थे सर्वेसर्वा
सरकारी अस्पतालों-क्लिनिक के लिए दवा, उपकरण, मशीन आदि की खरीदी के लिए सरकार ने 2012 में मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन का गठन किया था। अभी तक IAS अधिकारी ही अध्यक्ष और प्रबंध संचालक के तौर पर कॉर्पोरेशन के सर्वेसर्वा होते थे। मौजूदा सरकार ने विधानसभा के जरिए इसके प्रावधान में बदलाव कर राजनीतिक नियुक्तियों का रास्ता तैयारी किया। अब तक अध्यक्ष रहे स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अथवा सचिव केवल संचालक बनकर बोर्ड में रहेंगे।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button