जल जीवन मिशन: राज्य में 27.80 लाख से अधिक परिवारों को मिला घरेलू नल कनेक्शन

राज्य के ग्रामीण अंचलों में निःशुल्क घरेलू नल कनेक्शन देने का काम तेजी से किया जा रहा है. प्रदेश में जल जीवन मिशन के अंतर्गत घरों में शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए चलाए जा रहे इस अभियान के अंतर्गत 50 लाख 12 हजार 134 परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन दिए जाने के विरूद्ध वर्तमान में 27 लाख 80 हजार 638 घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं. इसके साथ-साथ राज्य के 39 हजार 113 स्कूलों, 37 हजार 501 आंगनबाड़ी केन्द्रों तथा 15 हजार 614 ग्राम पंचायत भवनों और सामुदायिक उप-स्वास्थ्य केन्द्रों में टेप नल के माध्यम से शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की व्यवस्था की गई है. छत्तीसगढ़ का रायपुर जिला सर्वाधिक 01 लाख 41 हजार 471 ग्रामीण परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन देने में सबसे आगे है. इसी तरह जांजगीर-चांपा जिला 01 लाख 41 हजार 188, महासमुंद जिले में 01 लाख 36 हजार 342 परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन देने में क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्रकुमार के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे इस जल जीवन मिशन के अंतर्गत राज्य में प्रति व्यक्ति, प्रतिदिन 55 लीटर के मान से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है, इसके लिए सभी जिलों में कार्ययोजना तैयार कर तेजी से कार्य किए जा रहे हैं. इस मिशन के तहत घरेलू नल कनेक्शन के अतिरिक्त स्कूल, उप-स्वास्थ्य केंद्र एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में भी रनिंग वाटर की व्यवस्था की जा रही है. उल्लेखनीय है कि सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी डॉ. एस. भारतीदासन एवं मिशन संचालक आलोक कटियार द्वारा जमीनी स्तर पर राज्य में सिंगल विलेज स्कीम और मल्टी विलेज स्कीम और अन्य पेयजल योजनाओं सहित जल जीवन मिशन के कार्यों का क्रियान्वयन की लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है.

जल जीवन मिशन के तहत अब तक धमतरी जिले में 01 लाख 29 हजार 469, रायगढ़ जिला में 01 लाख 25 हजार 061, कवर्धा 01 लाख 22 हजार 107, बिलासपुर में 01 लाख 21 हजार 211, बलौदाबाजार-भाटापारा में 01 लाख 19 हजार 841 घरेलू नल कनेक्शन दिए गए हैं. इसी प्रकार दुर्ग जिले में 01 लाख 15 हजार 048, मुंगेली में 01 लाख 13 हजार 345 तथा राजनांदगांव जिला 01 लाख 11 हजार 692 नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं. इसी तरह, बेमेतरा जिले में 01 लाख 11 हजार 575, बालोद में 01 लाख 11 हजार 388, सक्ती में 01 लाख 5 हजार 215, गरियाबंद 88 हजार 620, बलरामपुर में 86 हजार 759, जशपुर में 85 हजार 377, सरगुजा जिले के 83 हजार 834, कोरबा में 84 हजार 111, सूरजपुर में 78 हजार 233 शुद्ध पेयजल के लिए घरेलू नल कनेक्शन दिए गए हैं. बस्तर में 79 हजार 353, कोण्डागांव में 74 हजार 483, कांकेर 72 हजार 538, सांरगढ़-बिलाईगढ़ में 58 हजार 039, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में 47 हजार 993, मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में 42 हजार 634, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में 37 हजार 796, मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी में 29 हजार 814, सुकमा में 29 हजार 695, कोरिया में 27 हजार 680, बीजापुर 26 हजार 130, दंतेवाड़ा में 24 हजार 966 और नारायणपुर जिले में 17 हजार 630 ग्रामीण परिवारों को शुद्ध पेयजल के लिए घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button