आलोक को रास्ते से हटा देना चाहती थीं ज्योति मोर्या

लखनऊ. बरेली में तैनात महिला पीसीएस अफसर ज्योति मौर्या के पति आलोक मौर्या के साथ विवादों में घिरे जिला कमांडेंट मनीष दुबे डीजी होमगार्ड्स द्वारा भेजी गई रिपोर्ट में बुरी तरह फंस गए हैं। रिपोर्ट में पाया गया है कि ज्योति मौर्या के साथ मिलकर मनीष उसके पति आलोक को हमेशा के लिए रास्ते से हटाने की साजिश कर रहे थे।

अमरोहा में तैनात रही महिला होमगार्ड के साथ अश्लील हरकत करने, उसे प्रताड़ित करने के भी आरोप पाए गए हैं। दोनों मामलों में फंसे मनीष दुबे का निलंबन पर कभी भी कार्रवाई हो सकती है। कार्रवाई से पहले सभी पहलुओं पर विचार किया जाएगा।

रिपोर्ट में मनीष दुबे को निलंबित कर उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने की संस्तुति की गई है। प्रमुख सचिव होमगार्ड्स अनिल कुमार ने कहा कि जांच रिपोर्ट पर अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। ज्योति मौर्या के पति आलोक ने मनीष दुबे पर अपनी हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया था। जिसकी आडियो क्लिप भी उपलब्ध कराई है। आलोक ने ज्योति मौर्य का मोबाइल क्लोन कर रखा था। पुलिस ने जांच में पाया कि जो भी वाट्सएप ज्योति और मनीष दुबे के बीच आते थे, वह आलोक के पास भी समानान्तर रूप से उसके वाट्सएप पर भी आते थे। आलोक के शिकायती पत्र पर डीजी होमगार्ड्स बीके मौर्या ने प्रयागराज के डीआईजी होमगार्ड्स संतोष कुमार को जांच सौंपी थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर ही डीजी बीके मौर्या ने शासन को रिपोर्ट भेजी है। जांच अधिकारी ने मनीष की पत्नी के साथ चल रहे विवादों का भी जिक्र किया है। मनीष पर पत्नी ने भी दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।

‘ कहानी खत्म कर देते हैं’

एक संदेश में मनीष ने ज्योति से पूछा..मैं सोच रहा था कि क्यों न इसे रास्ते से हमेशा के लिए हटा दिया जाए। यह बार-बार परेशान कर रहा है। इस पर ज्योति ने बदले में पूछा कि कौन आलोक…। जवाब में मनीष ने कहा कि हां…। मनीष ने फिर कहा-इसकी कहानी हमेशा के लिए खत्म कर देते हैं। इस पर ज्योति ने हामी भरते हुए कहा ओके…। इसी चैट को आधार बनाकर ही जांच रिपोर्ट शासन को भेजी गई है।

 

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button