पंजाब के रास्ते देश की राजनीति में बड़ा मुकाम हासिल करने की तैयारी में केजरीवाल

देश की नेशनल पॉलिटिक्स में पैर जमाने की कोशिश में जुटी आम आदमी पार्टी (AAP) BJP विरोधी दलों को बैसाखी नहीं बनाएगी। AAP सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल की रणनीति BJP और कांग्रेस का मुकाबला करने के लिए छोटे दलों का कोई तीसरा फ्रंट बनाने के पक्ष में नहीं हैं। मंगलवार को पंजाब की धरती से केजरीवाल ने एक तरह से साफ कर दिया कि वह वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव में ‘एकला चलो रे’ की रणनीति पर चलते हुए ही BJP का मुकाबला करना पसंद करेंगे।

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के बाद पंजाब में अपने बूते पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनाई है। मंगलवार को भगवंत मान ने पंजाब के CM पद की शपथ ली। ऐसी चर्चा थी कि अरविंद केजरीवाल इस प्रोग्राम में BJP विरोधी दलों के नेताओं को बुलाकर अपनी ताकत दिखा सकते हैं। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के आने की चर्चा भी थी मगर ऐसा कुछ नहीं हुआ।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button