अब इस देश में मिला कोरोना का सब वेरिएंट, लोगों से बूस्टर डोज लगाने की अपील

नई दिल्ली। पिछले 2 साल से दुनिया के लिए परेशानी का सबब बनी कोरोना महामारी अब भले ही शांत दिख रही हो लेकिन वह अभी तक खत्म नहीं हो पाई है. इसी बीच महामारी को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है. दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट का नया सब-वेरिएंट (Coronavirus New Subvariant) पाया गया है. अफ्रीका के स्वास्थ्य विभाग ने इस सब-वेरिएंट के मिलने की पुष्टि की है. हालांकि विभाग ने यह भी दावा किया है कि यह नया सब-वेरिएंट फिलहाल खतरनाक नहीं लग रहा है.

नए सब-वेरिएंट की चल रही स्टडी

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता फोस्टर मोहाले ने गुरुवार को बताया कि नए सब-वेरिएंट (Coronavirus New Subvariant) का नाम BA.2.75 है. इसी तरह का सब-वेरिएंट इससे पहले जुलाई में गोटेंग इलाके में भी पाया गया था. चिंता की बात ये है कि 2 महीने बाद यही सब-वेरिएंट अब दूसरे इलाके में पाया गया है. उन्होंने बताया कि फिलहाल इस सब-वेरिएंट की स्टडी की जा रही है. अभी तक की जांच में यह ज्यादा खतरनाक नहीं लग रहा है. जबकि इससे पहले पाए गए सब-वेरिएंट BA.4 और BA.5 ने बड़ी मात्रा में लोगों की जान ली थी.

पहले भी पाए गए थे 2 खतरनाक सब-वेरिएंट

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि कोरोना के सब-वेरिएंट BA.4 और BA.5 अब भी दक्षिण अफ्रीका में सबसे ज्यादा लोगों को प्रभावित करने वाले सब-वेरिएंट हैं. लेकिन लोगों में इम्यूनिटी पावर विकसित हो जाने की वजह से अब ये दोनों सब-वेरिएंट इतने घातक नहीं रह गए हैं. ऐसे में एक नए सब-वेरिएंट का मिलना चिंता बढ़ाने वाला तो है लेकिन लोगों से अपील की जा रही है कि वे पैनिक न करें.

लोगों से बूस्टर डोज लगवाने की अपील

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता फोस्टर मोहाले ने कहा कि देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के लगातार कम होते मामलों के बाद सरकार अधिकतर पाबंदियों को हटा चुकी है. इसके बावजूद यह नहीं कहा जा सकता कि महामारी अब खत्म हो गई है. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए आगे आएं और साथ ही बूस्टर डोज भी लगवाएं. दक्षिण अफ्रीका में करीब 40 प्रतिशत आबादी को अब तक कोरोना वैक्सीन नहीं लगी है.

Related Articles

Back to top button